"मकर संक्रान्ति" के अवतरणों में अंतर

72 बैट्स् नीकाले गए ,  9 माह पहले
छो
हर बार की तरह इस बार भी मकर संक्रांति की सही तारीख को लेकर उलझन की स्थिति बनी हुई है कि मकर संक्रांति का त्योहार इस बार 14 जनवरी को मनाया जाएगा या 15 जनवरी को। ज्योतिषीय गणनाओं के अनुसार इस वर्ष 15 जनवरी को मकर संक्रांति का त्योहार मनाना चाहिए।
 
मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। हिन्दू पंचांग और धर्म शास्त्रों के अनुसार सूर्य का मकर राशी में प्रवेश 14 की शाम को हो रहा हैं। शास्त्रों के अनुसार रात में संक्रांति नहीं मनाते तो अगले दिन सूर्योदय के बाद ही उत्सव मनाया जाना चाहिए। इसलिए मकर संक्रांति 14 की जगह 15 जनवरी को मनाई जाने लगी है। अधिकतर 14 जनवरी को मनाया जाने वाला मकर संक्रांति का त्यौहार इस वर्ष भी 15 जनवरी को मनाया जाएगा।<ref>{{समाचार सन्दर्भ|title= लोहड़ीमकर पंजाबसंक्रांति काकब मुख्य त्यौहार|url= https://www.dekhoyaar.com/makar-sankranti-festival/ |accessdate=10 जनवरी 2020|publisher=[[DekhoYaar]]}}</ref>
 
 
 
== मकर संक्रान्ति का महत्व ==
57

सम्पादन