"मकर संक्रान्ति" के अवतरणों में अंतर

158 बैट्स् जोड़े गए ,  9 माह पहले
छो
अनुनाद सिंह द्वारा सम्पादित संस्करण 4469252 पर पूर्ववत किया। (ट्विंकल)
छो (2405:205:128C:D799:C9A8:35B:65E7:3176 (Talk) के संपादनों को हटाकर 223.238.255.107 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
छो (अनुनाद सिंह द्वारा सम्पादित संस्करण 4469252 पर पूर्ववत किया। (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
'''मकर संक्रान्ति''' [[हिन्दू|हिन्दुओं]] का प्रमुख पर्व है। मकर संक्रान्ति पूरे [[भारत]] और [[नेपाल]] में किसी न किसी रूप में मनाया जाता है। [[पौष]] मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है तभी इस [[पर्व]] को मनाया जाता है। वर्तमान शताब्दी में यह त्योहार [[जनवरी]] माह के चौदहवें या पन्द्रहवें दिन ही पड़ता है , इस दिन सूर्य [[धनु राशि]] को छोड़ [[मकर राशि]] में प्रवेश करता है।
 
[[तमिलनाडु]] में इसे [[पोंगल]] नामक [[उत्सव]] के रूप में मनाते हैं जबकि [[कर्नाटक]], [[केरल]] थातथा [[आंध्र प्रदेश]] में इसे केवल [[संक्रांति]] ही कहते हैं। मकर संक्रान्ति पर्व को कहीं-कहीं '''उत्तरायणी''' भी कहते हैं, यह भ्रान्ति है कि उत्तरायण भी इसी दिन होता है। किन्तु मकर संक्रान्ति [[उत्तरायण]] से भिन्न है।
 
Rakesh gurjar
 
== मकर संक्रान्ति के विविध रूप ==
'''[[राजस्थान]] में''' इस पर्व पर सुहागन महिलाएँ अपनी सास को वायना देकर आशीर्वाद प्राप्त करती हैं। साथ ही महिलाएँ किसी भी सौभाग्यसूचक वस्तु का चौदह की संख्या में पूजन एवं संकल्प कर चौदह ब्राह्मणों को दान देती हैं। इस प्रकार मकर संक्रान्ति के माध्यम से भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति की झलक विविध रूपों में दिखती है।
 
== मकर संक्रांति कब और क्यों ==
 
हर बार की तरह इस बार भी मकर संक्रांति की सही तारीख को लेकर उलझन की स्थिति बनी हुई है कि मकर संक्रांति का त्योहार इस बार 14 जनवरी को मनाया जाएगा या 15 जनवरी को। ज्योतिषीय गणनाओं के अनुसार इस वर्ष 15 जनवरी को मकर संक्रांति का त्योहार मनाना चाहिए।
 
मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। हिन्दू पंचांग और धर्म शास्त्रों के अनुसार सूर्य का मकर राशी में प्रवेश 14 की शाम को हो रहा हैं। शास्त्रों के अनुसार रात में संक्रांति नहीं मनाते तो अगले दिन सूर्योदय के बाद ही उत्सव मनाया जाना चाहिए। इसलिए मकर संक्रांति 14 की जगह 15 जनवरी को मनाईजानेमनाई जाने लगी है। अधिकतर 14जनवरी14 जनवरी को मनाया जाने वाला मकर संक्रांति का त्यौहार इस वर्ष भी 15 जनवरी को मनाया जाएगा।<ref>{{समाचार सन्दर्भ|title= मकर संक्रांति कब |url= https://www.dekhoyaar.com/makar-sankranti-festival/}}</ref>
 
== मकर संक्रान्ति का महत्व ==