"ताजमहल" के अवतरणों में अंतर

554 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(→‎इतिहास: संदर्भ जोड़ा।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका उन्नत मोबाइल सम्पादन
<!---IMPORTANT NOTICE: NEW SEVEN WONDERS OF THE WORLD is discussed in the TOURISM section.
Per consensus DO NOT ADD New Seven Wonders to the lead! See Discussion.--->
'''[https://zerotimespaper.blogspot.com/2020/03/Tajmahal-shahjahan-Mysterious-things-about-the-Taj-Mahal-that-you-may-not-know.html?m=1 ताजमहल]''' ({{lang-ur|تاج محل}}) भारत के [[आगरा]] शहर में स्थित एक विश्व धरोहर [[मक़बरा]] है। इसका निर्माण [[मुग़ल साम्राज्य|मुग़ल]] [[मुग़ल बादशाहों की सूची|सम्राट]] [[शाहजहाँ]] ने अपनी पत्नी [[मुमताज़ महल]] की याद में करवाया था।<ref name="भारत अन्तर्जाल">{{cite web |url=http://bharat.gov.in/knowindia/taj_mahal.php
|title= भारत के बारे में जानें - ताजमहल
|access-date= अगस्त १९ २०११ |last= |first= |authorlink= |author2= |date= |year= |month=
|archiveurl= |archivedate= |quote= }}</ref>
[[File:ताजमहल अतुलनीय धरोहर.webm|thumb|ताजमहल अतुलनीय धरोहर]]
[https://zerotimespaper.blogspot.com/2020/03/Tajmahal-shahjahan-Mysterious-things-about-the-Taj-Mahal-that-you-may-not-know.html?m=1 ताजमहल] [[मुग़ल वास्तुकला]] का उत्कृष्ट नमूना है। इसकी वास्तु शैली [[फ़ारसी वास्तुकला|फ़ारसी]], तुर्क, [[भारतीय वास्तु|भारतीय]] और [[इस्लामी वास्तुकला]] के घटकों का अनोखा सम्मिलन है। सन् १९८३ में, [https://zerotimespaper.blogspot.com/2020/03/Tajmahal-shahjahan-Mysterious-things-about-the-Taj-Mahal-that-you-may-not-know.html?m=1 ताजमहल] [[युनेस्को]] [[विश्व धरोहर स्थल]] बना। इसके साथ ही इसे विश्व धरोहर के सर्वत्र प्रशंसा पाने वाली, '''अत्युत्तम मानवी कृति'''यों में से एक बताया गया। ताजमहल को [[भारत]] की [[इस्लामी कला]] का रत्न भी घोषित किया गया है। साधारणतया देखे गये संगमर्मर की सिल्लियों की बडी- बडी पर्तो से ढंक कर बनाई गई इमारतों की तरह न बनाकर इसका [[श्वेत]] [[गुम्बद]] एवं टाइल आकार में [[संगमर्मर]] से<ref>टाइल आकार में, अर्थात संगमर्मर की छोटी छोटी ईंट रूपी आयताकार टाइलों से ढंका है।</ref> ढंका है। केन्द्र में बना मकबरा अपनी वास्तु श्रेष्ठता में सौन्दर्य के संयोजन का परिचय देते हैं। ताजमहल इमारत समूह की संरचना की खास बात है, कि यह पूर्णतया सममितीय है। इसका निर्माण सन् १६४८ के लगभग पूर्ण हुआ था।<ref name="भारत अन्तर्जाल"/> [[उस्ताद अहमद लाहौरी]] को प्रायः इसका प्रधान रूपांकनकर्ता माना जाता है।<ref name="unesco">[http://whc.unesco.org/archive/advisory_body_evaluation/252.pdf युनेस्को सलाहकार संस्था आँकलन]</ref>
 
[https://zerotimespaper.blogspot.com/2020/03/Tajmahal-shahjahan-Mysterious-things-about-the-Taj-Mahal-that-you-may-not-know.html?m=1 अधिक>>>]
 
== वास्तु कला ==
27

सम्पादन