"भूड़" के अवतरणों में अंतर

34 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
{{आधार}}
'''भूड़''' एक प्रकार की कृषि योग्य जमीन ([[कृष्य भूमि]]) का ही नाम है। इस प्रकार की जमीन में [[बालू]] का अंश अधिक होता है। इस कारण इसे उपजाऊ बनाने के लिये [[जल|पानी]] या सिंचाई करने की अधिक आवश्यकता होती है। [[उर्वरक|खाद]] और पानी की उचित व पर्याप्त मात्रा मिलती रहे तो इस प्रकार की कृष्य भूमि में [[फसलसस्य चक्रआवर्तन|रबी]], [[फसलसस्य चक्रआवर्तन|खरीफ]] और [[फसलसस्य चक्रआवर्तन|जायद]]; तीन-तीन फसलें एक ही साल में सफलतापूर्वक उगायी जा सकती हैं।
== बाहरी कड़ियाँ ==
* [http://pustak.org/home.php?mean=20207 भारतीय साहित्य संग्रह में '''भूड़''' शब्द का अर्थ]
85,949

सम्पादन