"हम दिल दे चुके सनम": अवतरणों में अंतर

439 बाइट्स जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (बॉट: नामांकरण → नामांकन)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
 
| writer =
| dialogue =
| starring = [[सलमान ख़ान]] <br />[[अजय देवगन]]<br />[[ऐश्वर्या राय बच्चन|ऐश्वर्या राय]]<br />[[विक्रम गोखले]]
| music = [[इस्माइल दरबार]]
| cinematography = [[अनिल मेहता]]
| imdb_id =
}}
'''हम दिल दे चुके सनम''' 1999 में बनी हिन्दी भाषा की नाटकीय [[प्रेमकहानी फ़िल्म]] है। इसका निर्देशन [[संजय लीला भंसाली]] ने किया है और मुख्य भूमिकाओं में [[सलमान ख़ान|सलमान खान]], [[अजय देवगन]] और [[ऐश्वर्या राय बच्चन|ऐश्वर्या राय]] हैं। इस फिल्म की कहानी ''[[वो सात दिन (1983 फ़िल्म)|वो सात दिन]]'' (1983) से मिलती है। इसका फिल्मांकन गुजरात और [[बुडापेस्ट]], [[हंगरी]] में हुआ। जारी होने पर फिल्म सफल रही थी और इसने कई [[राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार]] और [[फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार|फिल्मफेयर पुरस्कार]] जीते थे। फिल्म सुपर हिट रही थी।
== संक्षेप ==
नंदिनी ([[ऐश्वर्या राय बच्चन|ऐश्वर्या राय]]) भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गुरु पुंडित दरबार ([[विक्रम गोखले]]) की बेटी हैं। समीर ([[सलमान ख़ान|सलमान खान]]) नामक युवा व्यक्ति पंडित के मार्गदर्शन में भारतीय शास्त्रीय संगीत सीखने के लिये दरबार परिवार के साथ रहने आता है। उसे नंदिनी के कमरे में ठहराया जाता है, जिससे नंदिनी उसे नापसंद करने लगती है। पहले वो एक दूसरे को चिढ़ाते और नीचा दिखाते हैं, लेकिन जल्द ही वे प्यार में पड़ जाते हैं। दोनों विवाह और त्योहारों सहित कई पारिवारिक कार्यक्रमों के दौरान रूमानी क्षण बिताते हैं।
 
एक दिन उन्हें पंडित द्वारा पकड़ा जाता है। वह गुस्से में है क्योंकि उसने पहले से ही नंदिनी की शादी वनराज ([[अजय देवगन]]) के साथ तय की हुई है। समीर को घर से निकाल दिया जाता है और पंडित गायन छोड़ देता है। वह समीर से गुरु दक्षिणा के रूप में नंदिनी से कभी न मिलने का प्रण लेता है। वह अंततः इटली चला जाता है लेकिन वह नंदिनी को कई पत्र लिखता है जो उसके पास नहीं पहुंचते हैं। नंदिनी अनिच्छुक रूप से वनराज से शादी करती है। वह उससे प्यार करता है लेकिन नंदिनी उसकी तरफ रुखा व्यवहार रखती है। अंततः नंदिनी समीर के पत्र प्राप्त करती है और वनराज भी उन्हें पढ़ लेता है। वह उन दोनों की जोड़ी को एकजुट करने की सोचता है। नंदिनी और वनराज इटली जाते हैं लेकिन समीर की तलाश में कई दिन गुजर जाते हैं। वनराज की विनम्रता और उसके प्रति स्नेह से प्रेरित, नंदिनी उसकी तरफ आकर्षित होती है। आखिरकार वे समीर को उसकी मां ([[हेलन]]) के माध्यम से ढूंढने में सक्षम होते हैं। वनराज समीर के संगीत कार्यक्रम की रात को उनके मिलने की व्यवस्था करता है। उसके बाद वह नंदिनी को अलविदा बोलता है और दूर चला जाता है।
* [[सलमान ख़ान]] - समीर
* [[अजय देवगन]] - वनराज
* [[ऐश्वर्या राय बच्चन|ऐश्वर्या राय]] - नंदिनी
* [[विक्रम गोखले]] - पंडित दरबार
* [[स्मिता जयकर]] - अमृता (नंदिनी की माँ)
| Cover =
| Released = {{Start date|df=yes|1999|06|21}}
| Genre = [[ध्वनि-पट्टी|फिल्म साउंडट्रैक]]
| Length = 54:03
| Language = हिन्दी
| 6
| "ढोली तारो ढोल बाजे"
| कविता कृष्णमूर्ति, [[विनोद राठौड़|विनोद राठोड़]], करसन सरगथी
| 6:16
|-
* 2000 - [[फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार]] - ऐश्वर्या राय
;[[अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फ़िल्म अकादमी पुरस्कार]]
* 2000 - [[आई आई एफ ए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार]] - [[ऐश्वर्या राय बच्चन|ऐश्वर्या राय]]
* 2000 - [[आई आई एफ ए सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक पुरस्कार]] - उदित नारायण - "चाँद छुपा में बादल के" लिये
* 2000 - [[आई आई एफ ए सर्वश्रेष्ठ निर्देशक पुरस्कार]] - संजय लीला भंसाली
85,949

सम्पादन