"अल्फा क्षय" के अवतरणों में अंतर

79 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
 
[[File:Alpha Decay.svg|thumb|240px|right|Visual representation of alpha decay]]
 
'''अल्फा क्षय''' (Alpha decay या α-decay) एक प्रकार का [[रेडियोधर्मितारेडियोसक्रियता|रेडियोधर्मी]] क्षय है जिसमें परमाणु के नाभिक से [[अल्फा कण]] का उत्सर्जन होता है और एक नया परमाणु बनता है जिसकी [[द्रव्यमान संख्या]] मूल परमाणु से ४ कम होती है तथा [[परमाणु क्रमांक|परमाणु संख्या]] मूल परमाणु के परमाणु संख्या से २ कम होती है। अल्फा-कण [[हिलियम-4]] परमाणु के [[परमाणु नाभिक|नाभिक]] जैसा है जिसमें २ प्रोटॉन और २ न्यूट्रॉन होते हैं।
 
उदाहरण के लिये, [[यूरेनियम-238]] का अल्फा-क्षय होकर [[थोरियम-234]] बनता है:<ref name="suchocki">Suchocki, John. ''Conceptual Chemistry'', 2007. Page 119.</ref>
85,949

सम्पादन