"लता मंगेशकर" के अवतरणों में अंतर

715 बैट्स् जोड़े गए ,  9 माह पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (2405:204:9396:7269:80D2:C702:56BD:774B (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 4421831 को पूर्ववत किया)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
|1929|9|28}}
</ref>
| birth_place = [[इन्दौर]], [[इन्दौर राज्य]], [[सेन्ट्रल इंडिया एजेन्सी]], [[ब्रिटिश राज|ब्रितानी भारत]]<br/>(वर्तमान [[मध्य प्रदेश]], [[भारत]])
| nationality = [[भारत|भारतीय]]
| other_names = ''स्वर-साम्राज्ञी" ; "राष्ट्र की आवाज" ; "सहराब्दी की आवाज" ; "भारत कोकिला"
| occupation = [[पार्श्वगायक|पार्श्वगायिका]], [[संगीत निदेशक]], निर्माता
| years_active = 1942 से अब तक
| parents = [[दीनानाथ मंगेशकर]] (पिता)<br/>शेवन्ती मंगेशकर (माता)
| relatives = [[मीना खाडीकर्]] (बहन)<b/>[[आशा भोसले]] (बहनr)<br/>[[ऊषा मंगेशकर]] (बहन)<br/>[[हृदयनाथ मंगेशकर]] (भाई)
| awards = {{plainlist|
* [[राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार|राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार]]
* [[Bengal Film Journalists' Association Awards|BFJA Awards]]
* [[Filmfare Award for Best Female Playback Singer]]
* [[फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार|फिल्मफेयर]] विशेष पुरस्कार
* [[फिल्मफेयर आजीवन लब्धि पुरस्कार]]
}}
}}
|signature = LataMangeshkar.jpg
}}'''लता मंगेशकर''' (जन्म [[२८ सितंबर|28 सितंबर]], [[१९२९|1929]] [[इन्दौर|इंदौर]])
 
भारत की सबसे लोकप्रिय और आदरणीय गायिका हैं, जिनका छ: दशकों का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा पड़ा है। हालाँकि लता जी ने लगभग तीस से ज्यादा भाषाओं में फ़िल्मी और गैर-फ़िल्मी गाने गाये हैं लेकिन उनकी पहचान [[भारतीय सिनेमा]] में एक [[पार्श्वगायक]] के रूप में रही है। अपनी बहन [[आशा भोसले|आशा भोंसले]] के साथ लता जी का फ़िल्मी गायन में सबसे बड़ा योगदान रहा है।
 
लता की जादुई आवाज़ के [[भारतीय उपमहाद्वीप]] के साथ-साथ पूरी दुनिया में दीवाने हैं। [[टाईम पत्रिका]] ने उन्हें भारतीय [[पार्श्वगायक|पार्श्वगायन]] की अपरिहार्य और एकछत्र साम्राज्ञी स्वीकार किया है। लता दीदी को भारत रत्न भी मिला है ।
 
<br />
== बचपन ==
[[File:LataMangeshkar14.jpg|thumb|right|लता मंगेशकर की बचपन की छबि]]
लता का जन्म [[मराठी ब्रम्हण]] परिवार में, [[मध्य प्रदेश]] के [[इन्दौर|इंदौर]] शहर में सबसे बड़ी बेटी के रूप में पंडित [[दीनानाथ मंगेशकर]] के मध्यवर्गीय परिवार में हुआ। उनके पिता [[रंगमंच]] एलजीके कलाकार और गायक थे। इनके परिवार से भाई [[हृदयनाथ मंगेशकर]] और बहनों [[उषा मंगेशकर]], [[मीना मंगेशकर]] और [[आशा भोसले|आशा भोंसले]] सभी ने [[संगीत]] को ही अपनी आजीविका के लिये चुना।
 
हालाँकि लता का जन्म इंदौर में हुआ था लेकिन उनकी परवरिश [[महाराष्ट्र]] मे हुई. वह बचपन से ही गायक बनना चाहती थीं। बचपन में [[कुन्दन लाल सहगल]] की एक फ़िल्म चंडीदास देखकर उन्होने कहा था कि वो बड़ी होकर सहगल से शादी करेगी। पहली बार लता ने [[वसंग जोगलेकर]] द्वारा निर्देशित एक फ़िल्म ''कीर्ती हसाल'' के लिये गाया। उनके पिता नहीं चाहते थे कि लता फ़िल्मों के लिये गाये इसलिये इस गाने को फ़िल्म से निकाल दिया गया। लेकिन उसकी प्रतिभा से वसंत जोगलेकर काफी प्रभावित हुये।
पिता की मृत्यु के बाद (जब लता सिर्फ़ तेरह साल की थीं), लता को पैसों की बहुत किल्लत झेलनी पड़ी और काफी संघर्ष करना पड़ा। उन्हें अभिनय बहुत पसंद नहीं था लेकिन पिता की असामयिक मृत्यु की वज़ह से पैसों के लिये उन्हें कुछ [[हिन्दी]] और [[मराठी भाषा|मराठी]] फ़िल्मों में काम करना पड़ा। अभिनेत्री के रूप में उनकी पहली फ़िल्म ''पाहिली मंगलागौर'' ([[१९४२|1942]]) रही, जिसमें उन्होंने स्नेहप्रभा प्रधान की छोटी बहन की भूमिका निभाई। बाद में उन्होंने कई फ़िल्मों में अभिनय किया जिनमें, ''माझे बाल'', ''चिमुकला संसार'' ([[१९४३|1943]]), ''गजभाऊ'' ([[१९४४|1944]]), ''बड़ी माँ'' ([[१९४५|1945]]), ''जीवन यात्रा'' ([[१९४६|1946]]), ''माँद'' ([[१९४८|1948]]), ''[[शिवाजी|छत्रपति शिवाजी]]'' ([[१९५२|1952]]) शामिल थी। ''बड़ी माँ'', में लता ने '''[[नूर जहाँ|नूरजहाँ]]''' के साथ अभिनय किया और उसके छोटी बहन की भूमिका निभाई [[आशा भोंसलेभोसले|आशा भोंसलेने]]ने। उन्होंने खुद की भूमिका के लिये गाने भी गाये और आशा के लिये पार्श्वगायन किया।
 
वर्ष 1942 ई में लताजी के पिताजी का देहांत हो गया इस समय इनकी आयु मात्र तेरह वर्ष थी. भाई बहिनों में बड़ी होने के कारण परिवार की जिम्मेदारी का बोझ भी उनके कंधों पर आया गया था. दूसरी ओर उन्हें अपने करियर की तलाश भी थी. जिस समय लताजी ने (1948) में पार्श्वगायिकी में कदम रखा तब इस क्षेत्र में [[नूरजहां (गायिका)|नूरजहां]], [[अमीरबाई कर्नाटकी]], [[शमशाद बेगम]] और राजकुमारी आदि की तूती बोलती थी. ऐसे में उनके लिए अपनी पहचान बनाना इतना आसान नही था. लता का पहला गाना एक मराठी फिल्म कीति हसाल के लिए था, मगर वो रिलीज नहीं हो पाया.
 
[[१९४५|1945]] में उस्ताद [[ग़ुलाम हैदर]] (जिन्होंने पहले नूरजहाँ की खोज की थी) अपनी आनेवाली फ़िल्म के लिये लता को एक निर्माता के स्टूडियो ले गये जिसमे [[कामिनी कौशल]] मुख्य भूमिका निभा रही थी। वे चाहते थे कि लता उस फ़िल्म के लिये पार्श्वगायन करे। लेकिन गुलाम हैदर को निराशा हाथ लगी।
[[१९४७|1947]] में वसंत जोगलेकर ने अपनी फ़िल्म ''आपकी सेवा में'' में लता को गाने का मौका दिया। इस फ़िल्म के गानों से लता की खूब चर्चा हुई। इसके बाद लता ने ''मज़बूर'' फ़िल्म के गानों "अंग्रेजी छोरा चला गया" और "दिल मेरा तोड़ा हाय मुझे कहीं का न छोड़ा तेरे प्यार ने" जैसे गानों से अपनी स्थिती सुदृढ की। हालाँकि इसके बावज़ूद लता को उस खास हिट की अभी भी तलाश थी।
 
[[१९४९|1949]] में लता को ऐसा मौका फ़िल्म "महल" के "आयेगा आनेवाला" गीत से मिला। इस गीत को उस समय की सबसे खूबसूरत और चर्चित अभिनेत्री [[मधुबाला]] पर फ़िल्माया गया था। यह फ़िल्म अत्यंत सफल रही थी और लता तथा मधुबाला दोनों के लिये बहुत शुभ साबित हुई। इसके बाद लता ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।
 
== पुरस्कार ==
== इन्हें भी देखें ==
* [[मुकेश (गायक)|मुकेश]]
* [[ए॰ आर॰ रहमान|ए आर रहमान ]]
* [[मोहम्मद रफ़ी]]
* [[आशा भोसले|आशा भोंसले]]
* [[हेमन्त कुमार मुखोपाध्याय|हेमंत कुमार]]
*[https://latamangeshkaroldsong.blogspot.com/ Lata Mangeshkar Songs]
 
85,352

सम्पादन