"विषुव (खगोलीय निर्देशांक)" के अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
 
Earth-lighting-equinox PL.png
[[चित्र:Earth-lighting-equinox PL.png|अंगूठाकार|विषुव के दौरान पृथ्वी बिजली]]
[[खगोल शास्त्र|खगोलशास्त्र]] में '''विषुव''' (<small>equinox</small>) समय के उस क्षण को कहते हैं जिसके आधार पर किसी [[खगोलीय निर्देशांक पद्धति|खगोलीय निर्देशांक प्रणाली]] (<small>celestial coordinate system</small>) के तत्वों की परिभाषा की जाती है। उदाहरण के लिए [[भूमध्यीय निर्देशांक प्रणाली]] ऐसी एक प्रकार की पद्धति है और इसमें [[खगोलीय मध्य रेखा]], [[खगोलीय ध्रुव]] और [[विषुव|बसंत विषुव की दिशा]] को पहले से तय करके किसी भी वस्तु का स्थान इनके हिसाब से लगाया जाता है। ध्यान रहे कि समय के साथ यह सभी बदलते रहते हैं इसलिए किसी खगोलीय निर्देशांक प्रणाली में एक समय को मानक मानकर उसी के आधार पर निर्देशांक बताये जाते हैं। 'विषुव' [[युगयुगारम्भ (खगोलशास्त्र)|युग]] से अलग चीज़ है क्योंकि युग वह समय होता है कि जब किसी [[खगोलीय वस्तु]] की स्थिति मापी गई हो।
 
== तुलना के ज़रिये 'विषुव' और 'युग' का विश्लेषण ==
 
== इन्हें भी देखें ==
* [[युगारम्भ (खगोलशास्त्र)|युग (खगोलशास्त्र)]]
* [[खगोलीय निर्देशांक पद्धति]]
 
85,755

सम्पादन