"मैक्रो (सॉफ्टवेयर)": अवतरणों में अंतर

छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
छो (बॉट: वर्तनी एकरूपता।)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
[[चित्र:Jedit macro recorder.png|अंगूठाकार|जेडिट का मैक्रो एडिटर्]]
[[कंप्यूटर|कम्प्यूटर]] [[सॉफ्टवेयर]] के संदर्भ में '''मैक्रो''' (macro ; यूनानी μάκρο = बड़ा या दूर) किसी नियम या पैटर्न का द्योतक है जो बताता है कि किसी इनपुट-श्रेणी (सेक्वेंस) के संगत आउटपुट श्रेणी क्या रहेगी। प्रायः इनपुट श्रेणी और आउटपुट श्रेणी दोनो ही वर्णों की श्रेणी या शब्दसमूह होते हैं। (जैसे इन्पुट श्रेणी = LDA और आउटपुट श्रेणी = Load accumulator आदि)। 'मैक्रो' शब्द कम्प्यूटर की प्रगति के आरम्भिक दिनों में [[मैक्रो-असेम्बुलर|मैक्रो-असेम्बुलरों]] के साथ अस्तित्व में आया।
 
आजकल अधिकांश अप्लिकेशन सॉफ्टवेयरों (जैसे [[ओपेन ऑफिसओपनऑफिस.ऑर्ग|ओपेनआफिस]], [[नोटपैड++]] आदि) में मैक्रो रेकार्ड करने, उसे चलाने एवं सम्पादित करने आदि की सुविधा होती है। कुंजीपटल और माउस के मैक्रो भी होते हैं जो कुछ कुंजियों को दबाने मात्र से बहुत सारे काम क्रम से कर देते हैं जिनके लिये बहुत सी कुंजियाँ दबानी पड़तीं। मैक्रो का समुचित उपयोग करके पुनरावृत्त (रिपिटेटिव) कार्यों में श्रम से बचा जा सकता है और गलती की सम्भावना भी समाप्त हो जाती है।
 
; उदाहरण
85,949

सम्पादन