"सियालकोट ज़िला": अवतरणों में अंतर

516 बाइट्स जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
("Sialkot_junction2.jpg" को हटाया। इसे कॉमन्स से INeverCry ने हटा दिया है। कारण: per [[:c:Commons:Deletion requests/Files in Category:Files uploaded by Yaminja)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
[[चित्र:Sialkot District.png|thumb|230px|[[पंजाब (पाकिस्तान)|पाकिस्तानी पंजाब]] प्रांत में सियालकोट ज़िला (लाल रंग में)]]
'''सियालकोट''' (<small>[[उर्दू भाषा|उर्दू]]: {{Nastaliq|ur|سیالکوٹ}}, [[अंग्रेज़ी भाषा|अंग्रेज़ी]]: Sialkot</small>) [[पाकिस्तान]] के [[पाकिस्तानी पंजाब (पाकिस्तान)|पंजाब]] प्रांत का एक ज़िला है। सियालकोट ज़िले की राजधानी [[सियालकोट]] शहर है। इस ज़िले की चार तहसीलें हैं - डसका, पसरूर, सम्बड़ियाल और सियालकोट। यह ज़िला [[पंजाब (पाकिस्तान)|पाकिस्तानी पंजाब]] प्रान्त के पूर्वोत्तर में स्थित है। इसकी सीमाएँ पश्चिमोत्तर में [[गुजरात ज़िला|गुजरात ज़िले]] से, पूर्वोत्तर में [[भारत]] के जम्मू ज़िले से, दक्षिण पूर्व में नारोवाल ज़िले सेऔर दक्षिण-पश्चिम में [[गुजराँवाला ज़िला|गुजराँवाला ज़िले]] से लगतीं हैं।
 
== विवरण ==
सियालकोट ज़िले में सन् २०११ में ४२,००,००० लोगों की आबादी थी। इसका क्षेत्रफल क़रीब ३,०१६ वर्ग किमी है। इस ज़िले का नाम प्राचीन राजा सालिवाहन पर पड़ा है और इसका सम्बन्ध उसके प्रसिद्ध पुत्र राजा रसालू से भी है जिसपर पंजाबी लोक-संस्कृति में कथाएँ और गाने हैं। सियालकोट ज़िले का पसरूर शहर एक प्राचीन स्थल है जिसकी स्थापना पारस राम नामक एक [[ब्राह्मण]] ने की थी। प्रथम [[मुग़ल|मुग़ल साम्राज्य]] सम्राट [[बाबर]] ने अपने [[बाबरनामा]] में भी पसरूर का ज़िक्र किया है कि वह वहाँ रुका था। इस क्षेत्र पर समय-समय पर पड़ोस के [[जम्मू]] राजाओं का क़ब्ज़ा होता रहता था। मुग़ल साम्राज्य के कमज़ोर पड़ने पर यहाँ रणजीत सिंह देव नामक एक डोगरा राजपूत राजा का शासन हो गया जिसने इस क्षेत्र पर [[अफ़ग़ानिस्तान|अफ़्ग़ानिस्तान]] के [[दुर्रानी साम्राज्य]] के फैलने पर [[अहमद शाह अब्दाली|अहमद शाह दुर्रानी]] कि अधीनता स्वीकार ली।<ref name="ref61vexeg">[http://books.google.com/books?id=xndDAAAAYAAJ Imperial gazetteer of India], Sir William Wilson Hunter, Great Britain. India Office, Clarendon Press, 1908, ''... On the decline of the Mughal empire Ranjit Singh Deo, Rajput, a hill chief, extended his sway ... Before his death in 1773 Ranjit Deo had secured possession of the whole District, except Sialkot town and its dependencies ...''</ref> सिख साम्राज्य के उभरने पर यहाँ उसका राज आया। आज़ादी से ठीक पहले सियालकोट ज़िले में मुस्लिमों कि बहुतायत थी हालांकि सियालकोट शहर में हिन्दू बहुत थे। प्रसिद्ध कवि [[मुहम्मद इक़बाल|अलामा इकबाल]], भारतीय अभिनेता [[ए के हंगल]] और प्रसिद्ध पुराने हिंदी-फिल्म नायक [[राजेन्द्र कुमार|राजेंद्र कुमार]] सभी सियालकोट में पैदा हुए थे।<ref name="akhangal">[http://www.pakistantoday.com.pk/2011/02/19/news/national/sialkot-born-indian-actor-hangal-battling-illness/ Sialkot-born Indian actor Hangal battling illness], Pakistan Today, 19 Feb 2011, ''... Sialkot-born actor, AK Hangal who belonged to the Kashmiri Pandit community, is suffering from serious old-age problems these days. Hangal was born in Sialkot in 1917 ...''</ref>
 
== सियालकोट ज़िले के कुछ नज़ारे ==
|सियालकोट जंक्शन रेलवे स्टेशन
|सियालकोट शहर का एक बाज़ार
File:Head Marala Canal near Sialkot.JPG|[[चनाब नदी|चेनाब नदी]] की एक नहर
File:Clock Tower 2007.jpg|सियालकोट शहर का घंटाघर
File:TarigriSharif.jpg|डसका तहसील के एक गाँव में एक मज़ार
 
== इन्हें भी देखें ==
* [[पंजाब (पाकिस्तान)|पाकिस्तानी पंजाब]]
* [[गुर्जर|गुज्जर लोग]]
* [[गुजरांवाला|गुजराँवाला]]
 
== बाहरी कड़ियाँ ==
85,949

सम्पादन