"हम दोनों (1961 फ़िल्म)" के अवतरणों में अंतर

134 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
छो
बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है
(खाली लेख को अच्छे से विस्तारित किया)
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
 
| music = [[जयदेव]]
| writer =
| starring = [[देव आनन्द]], <br />[[नन्दा]], <br />[[साधना (हिन्दी फ़िल्म अभिनेत्री)शिवदासानी|साधना]] <br />
| screenplay =
| released = 1961
| budget =
}}
'''हम दोनों''' 1961 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसे [[देव आनन्द]] द्वारा निर्मित किया गया और उनके भाई [[विजय आनन्द]] ने निर्देशन किया। फिल्म में देव आनन्द दोहरी भूमिका में हैं और इसमें [[नन्दा]], [[साधना (हिन्दी फ़िल्म अभिनेत्री)शिवदासानी|साधना]] और [[लीला चिटनिस]] भी हैं। फिल्म [[जयदेव]] के संगीत के लिए भी जानी जाती है और यह बॉक्स ऑफिस पर हिट रही।
 
== संक्षेप ==
महेश आनन्द और मेजर वर्मा में कई चीजें समान हैं। एक: दोनों सेना में हैं; दोनों अमीर परिवारों से हैं; और दोनों एक जैसे दिखते हैं। जब मेजर वर्मा लापता हो जाता है, तो उसे युद्ध के दौरान मृत माना जाता है। महेश को इस खबर को उसके परिवार तक पहुँचाने के लिए कहा जाता है। आगमन पर, उसे मेजर वर्मा समझ लिया जाता है। वह वर्मा की माँ श्रीमती वर्मा ([[ललिता पवार]]) के साथ-साथ उसकी बीमार पत्नी रूमा ([[नन्दा]]) से मिलता है। वर्मा की मौत की खबर को वह नहीं बता पाता है और वर्मा के रूप में ही रहने लगता है।
 
उसका घर में स्वागत किया जाता है। इससे महेश के जीवन में उसकी प्रेमिका मीता ([[साधना (हिन्दी फ़िल्म अभिनेत्री)शिवदासानी|साधना]]) के रूप में जटिलताएँ पैदा होती हैं। उसे लगता है कि महेश अब उससे प्यार नहीं करता। तब रूमा को पता चलता है कि उसका पति किसी दूसरी महिला के प्यार करता है। महेश अपने आप को गहरे संकट में पाता है, क्योंकि वह किसी को भी कुछ बताने करने में असमर्थ है। उसे अपने जीवन और परिवार में वापस जाने में केवल मेजर वर्मा ही है जो उसकी मदद कर सकता है।
 
== मुख्य कलाकार ==
* [[देव आनन्द]] ― कैप्टन आनन्द / मेजर मनोहर लाल वर्मा
* [[नन्दा]] ― रूमा
* [[साधना (हिन्दी फ़िल्म अभिनेत्री)शिवदासानी|साधना]] ― मीता
* [[ललिता पवार]] ― मेजर की माँ
* [[गजानन जागीरदार]] ― रूमा के पिता
 
| title1 = अभी ना जाओ छोड़कर
| extra1 = [[मोहम्मद रफ़ी]], [[आशा भोसले|आशा भोंसले]]
| length1 = 4:18
 
85,949

सम्पादन