"ताज-उल-मस्जिद, भोपाल" के अवतरणों में अंतर

छो
सांचे को जोड़ने का काम किया गया है
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (सांचे को जोड़ने का काम किया गया है)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन उन्नत मोबाइल सम्पादन
{{Infobox religious building
[[चित्र:2100914-Tal ul Masjid Bhopal.jpeg|thumb|right|ताज-उल-मस्जिद, भोपाल]]
|name = ताज-उल मसाजिद ({{lang|ar|تَاجُ ٱلْمَسَاجِد}})<ref name="LP2010"/>
|religious_affiliation = [[सुन्नी|सुन्नी इस्लाम]]
|image = Taj-ul-Masjid, Bhopal.jpg
|coordinates = {{coord|23.262934|77.392802|display=inline,title}}
|map_size = 275
|map_caption = Location in Bhopal, Madhya Pradesh, India
|location = [[भोपाल ]], [[मध्य प्रदेश]], [[भारत]]
|tradition =
|website =
|architecture_type =मस्जिद
|architecture_style = [[इन्डो-इस्लामिक आर्किटेक्चर]], [[मुग़ल आर्किटेक्चर]]
|funded_by=[[सुल्तान शाह जहां बेगम भोपाल ]] [[बहादुर शाह ज़फ़र]]|capacity = 175,000+
|interior_area = {{convert|23,000|m2|abbr=on}}<ref name="LP2010"/>
|dome_quantity = 3
|minaret_quantity = 2
}} [[चित्र:2100914-Tal ul Masjid Bhopal.jpeg|thumb|right|ताज-उल-मस्जिद, भोपाल]]
[[भोपाल]] स्थित यह मस्जिद [[भारत]] की सबसे विशाल मस्जिदों में एक है। इस मस्जिद का निर्माण कार्य भोपाल के आठवें शासक शाहजहां बेगम के शासन काल में प्रारंभ हुआ था, लेकिन धन की कमी के कारण उनके जीवंतपर्यंत यह बन न सकी। 1971 में यह मस्जिद पूरी तरह से बन तैयार हो सकी। गुलाबी रंग की इस विशाल मस्जिद की दो सफेद गुंबदनुमा मीनारें हैं, जिन्‍हें मदरसे के तौर पर इस्‍तेमाल किया जाता है। तीन दिन तक चलने वाली यहां की वार्षिक इजतिमा प्रार्थना भारत भर से लोगों का ध्‍यान खींचती है।