"सबलगढ़ किला": अवतरणों में अंतर

117 बाइट्स हटाए गए ,  2 वर्ष पहले
सफाई की गयी
छो (2409:4043:893:93D3:F680:BAF0:8AED:FCA5 (Talk) के संपादनों को हटाकर 2409:4043:515:A13A:A2F5:63A7:8626:B50E के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
(सफाई की गयी)
|type = रक्षा किला
|coordinates = {{coord|26|14|28.8|N|77|24|20.2|E|type:landmark|display=inline}}
|built = [[१७-१८१८वीं वी सताब्दी]]सदी
|builder = [[महाराजा गोपाल सिंह जादौन ]]
|materials = पत्थर, बलुआ पत्थर
|height =
|caption2 =
}}
[[मुरैना]] के'''सबलगढ़ किला''' [[सबलगढ़]] नगर''' में स्थित यह किला [[मुरैना]] से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी पर है। मध्यकाल में बना यह किला एक पहाड़ी के शिखर बना हुआ है। इस किले की नींव सबल सिंह तोमर ने डाली थी जबकि करौली के महाराजा गोपाल सिंह जादौन ने 18वीं शताब्दी में इसे पूरा करवाया था। कुछ समय बाद सिंकदर लोदी ने इस किले को अपने नियंत्रण में ले लिया था लेकिन बाद में करौली के राजा ने मराठों की मदद से इस पर पुन: अधिकार कर लिया। किले के पीछे सिंधिया काल में बना एक बांध है, जहां की सुंदरता देखते ही बनती है। सबलगढ़ का किला अत्यंत सुन्दर एवं मनमोहक है।
 
{{भारत के दुर्ग}}