"प्रदोष व्रत": अवतरणों में अंतर

74 बाइट्स हटाए गए ,  2 वर्ष पहले
छो
Lokesh gla (वार्ता) के 1 संपादन वापस करके सौरभ तिवारी 05के अंतिम अवतरण को स्थापित किया (ट्विंकल)
छो (Lokesh gla (वार्ता) के 1 संपादन वापस करके सौरभ तिवारी 05के अंतिम अवतरण को स्थापित किया (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
प्रदोष व्रत के विषय में गया है कि अगर
* रविवार के दिन प्रदोष व्रत आप रखते हैं तो सदा नीरोग रहेंगे। <ref>http://religion.bhaskar.com/news/JM-JKR-DHAJ-today-25-octobersunday-do-ravi-pradosh-vrat-by-this-method-5149095-NOR.html</ref>
* सोमवार के दिन व्रत करने से आपकी इच्छा फलितहोती है। <ref>https://essenceofastro.blogspot.com/2020/04/soma-pradosh.html</ref> <ref>http://religion.bhaskar.com/news/utsav--every-wish-are-fulfill-to-this-som-fast-story-2989998.html</ref>
* मंगलवार कोप्रदोष व्रत रखने से रोग से मुक्ति मिलती है और आप स्वस्थ रहते हैं।<ref>http://m.amarujala.com/news/religion-festivals/mangal-dosha-remedy-from-pradosh-vrat/</ref>
* बुधवार के दिन इस व्रत का पालन करने से सभी प्रकार की कामना सिद्ध होतीहै। <ref>http://religion.bhaskar.com/news/JM-JKR-DHAJ-tomorrow-do-budh-pradosh-fast-by-this-method-will-fulfill-your-every-wish-5065608-NOR.html</ref>