"फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल": अवतरणों में अंतर

सन्दर्भ जोड़ा
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(सन्दर्भ जोड़ा)
|relations =
}}
'''फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल''' (अंग्रेज़ी: ''Florence Nightingale'') ([[१२ मई]] [[१८२०]]-[[१३ अगस्त]] [[१९१०]]) को आधुनिक नर्सिग आन्दोलन का जन्मदाता माना जाता है। दया व सेवा की प्रतिमूर्ति फ्लोरेंस नाइटिंगेल "द लेडी विद द लैंप" (दीपक वाली महिला) के नाम से प्रसिद्ध हैं। इनका जन्म एक समृद्ध और उच्चवर्गीय ब्रिटिश परिवार में हुआ था। लेकिन उच्च कुल में जन्मी फ्लोरेंस ने सेवा का मार्ग चुना। [[१८४५]] में परिवार के तमाम विरोधों व क्रोध के पश्चात भी उन्होंने अभावग्रस्त लोगों की सेवा का व्रत लिया। [[वर्ष|दिसंबर]] [[१८४४]] में उन्होंने चिकित्सा सुविधाओं को सुधारने बनाने का कार्यक्रम आरंभ किया था। बाद में [[रोम]] के प्रखर राजनेता सिडनी हर्बर्ट से उनकी मित्रता हुई।<ref>{{Cite web|url=https://navbharattimes.indiatimes.com/education/gk-update/know-on-nurse-day-who-was-florence-nightingale/articleshow/69280110.cms|title=नर्स दिवस: जानें कौन थीं फ्लोरेंस नाइटिंगेल|last=|first=|date=|website=Navbharat Times|archive-url=|archive-date=|dead-url=|access-date=}}</ref>
 
[[चित्र:St Margarets FN grave.jpg|thumb|left|सेंट मार्गरेट’स गिरजाघर के प्रांगण में फ़्लोरेंस नाइटेंगेल की कब्र]]