"साबुत अनाज" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  2 माह पहले
Grain_hindi.png on Commons
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(Grain_hindi.png on Commons)
[[चित्र:Grain hindiGrain_hindi.gifpng|right]]
'''साबुत अनाज''' ([[अंग्रेज़ी भाषा|अंग्रेज़ी]]:''होल ग्रेन'') अर्थात दाने के तीनों भागों को खाया जाता है जिसमें [[आहारीय रेशा|रेशा]] युक्त बाहरी सतह और [[पोषण|पोषकता]] से भरपूर बीज भी शामिल है। साबुत अनाज वाले खाद्य पदार्थों में एक बाहरी खोल, भूसी, चोकर या ब्रान (ऊपरी सतह), बीज और मुलायम एण्डोस्पर्म पाया जाता है।<ref name="हिन्दुस्तान">[http://www.livehindustan.com/news/tayaarinews/tips/67-77-95339.html साबुत अनाज]। हिन्दुस्तान लाइव। ८ फ़रवरी २०१०</ref> [[गेहूँ|गेहूं]] की पिसाई के वक्त ऊपरी भूसी एवं बीज को हटा दिया जाता है एवं स्टार्च बहुल एण्डोस्पर्म ही बच जाता है। भूसी एवं बीज से [[विटामिन ई]], [[विटामिन बी समूह|विटामिन बी]] और अन्य तत्व जैसे [[जस्ता]], [[सेलेनियम]], [[ताम्र|तांबा]], [[लोहा|लौह]], [[मैंगनीज़|मैगनीज]] एवं [[मैग्नीसियम|मैग्नीशियम]] आदि प्राप्त होते हैं। इनमें [[आहारीय रेशा|रेशा]] भी प्रचुर मात्र में पाया जाता है। सभी साबुत अनाजों में अघुलनशील फाइबर पाये जाते हैं जो कि पाचन तंत्र के लिए बेहतर माने जाते हैं, साथ ही कुछ घुलनशील फाइबर भी होते हैं जो रक्त में वांछित [[कोलेस्टेरॉल|कोलेस्ट्रोल]] के स्तर को बढ़ाते हैं। खासतौर से [[जई]], [[जौ]] और [[राई]] में घुलनशील फाइबर की मात्र अधिक होती है, साबुत अनाजों में रूटीन (एक फ्लेवेनएड जो हृदय रोगों को कम करता है), लिग्नान्स, कई [[प्रतिऑक्सीकारक|एंटीऑक्सीडेंट्स]] और अन्य लाभदायक पदार्थ पाये जाते हैं।
 
2,624

सम्पादन