"मन्दाकिनी" के अवतरणों में अंतर

1,565 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छो
ब्रह्माण्ड किसे कहते हैं ?
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
छो (ब्रह्माण्ड किसे कहते हैं ?)
 
हमारी [[पृथ्वी]] और [[सूर्य]] जिस गैलेक्सी में अवस्थित हैं, रात्रि में हम नंगी आँख से उसी गैलेक्सी के ताराओं को देख पाते हैं। अब तक ब्रह्मांड के जितने भाग का पता चला है उसमें लगभग ऐसी ही १९ अरब गैलेक्सीएँ होने का अनुमान है। ब्रह्मांड के विस्फोट सिद्धांत (बिग बंग थ्योरी ऑफ युनिवर्स) के अनुसार सभी गैलेक्सीएँ एक दूसरे से बड़ी तेजी से दूर हटती जा रही हैं।
 
 
 
'''ब्रह्मांड को इंग्लिश में क्या कहते हैं''' :- The Universe
 
'''ब्रह्माण्ड किसे कहते हैं ?'''
 
* अस्तित्वमान द्रव्य एवं ऊर्जा के सम्मिलित रूप को ब्रह्माण्ड कहते हैं।
* दूसरे शब्दों में सूक्ष्मतम अणुओं से लेकर महाकाय आकाशगंगाओं  (Galaxies)तक के सम्मिलित स्वरूप को ब्रह्माण्ड कहा जाता है।
 
'''[https://exam2villa.blogspot.com/2020/05/gkssc-cglrailway-ntpc_25.html?m=1 ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति]''' से संबंधित प्रमुख सिद्धान्त निम्न हैं -
 
# '''महाविस्फोट सिद्धान्त (Big-Bang Theory)''' : ऐब जॉर्ज लैमेन्तेयर
# '''साम्यावस्था या सतत सृष्टि सिद्धान्त या स्थिर अवस्था संकल्पना (Steady State Theory)''': थॉमस गोल्ड एवं हर्मन बॉडी
# '''दोलन सिद्धान्त (Pulsating Universe Theory)''': डॉ एलन संडेजा
# '''स्फीति सिद्धान्त (Inflationary Theory)''': अलेन गुथ
 
[[ब्रह्माण्ड]] में सौ अरब '''गैलेक्सी''' अस्तित्व में है। जो बड़ी मात्रा में तारे, [[गैस]] और [[खगोलीय धूल]] को समेटे हुए है। गैलेक्सियों ने अपना जीवन लाखो वर्ष पूर्व प्रारम्भ किया और धीरे धीरे अपने वर्तमान स्वरूप को प्राप्त किया। प्रत्येक गैलेक्सियाँ अरबों तारों को समेटे हुए है। गुरुत्वाकर्षण तारों को एक साथ बाँध कर रखता है और इसी तरह अनेक गैलेक्सी एक साथ मिलकर तारा गुच्छ में रहती है।
7

सम्पादन