"दुर्रानी साम्राज्य" के अवतरणों में अंतर

156 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
 
|currency =
}}
'''दुर्रानी साम्राज्य''' ([[पश्तो भाषा|पश्तो]]: {{Nastaliq|ur|د درانیانو واکمني}}, द दुर्रानियानो वाकमन​ई) एक [[पठान|पश्तून]] साम्राज्य था जो [[अफ़ग़ानिस्तान|अफ़्ग़ानिस्तान]] पर केन्द्रित था और पूर्वोत्तरी [[ईरान]], [[पाकिस्तान]] और पश्चिमोत्तरी [[भारत]] पर विस्तृत था। इस १७४७ में [[कांधार|कंदहार]] में [[अहमद शाह अब्दाली|अहमद शाह दुर्रानी]] (जिसे अहमद शाह अब्दाली भी कहा जाता है) ने स्थापित किया था जो अब्दाली कबीले का सरदार था और ईरान के [[नादिर शाह]] की फ़ौज में एक सिपहसलार था। १७७३ में अहमद शाह की मृत्यु के बाद राज्य उसके पुत्रों और फिर पुत्रों ने चलाया जिन्होने राजधानी को [[काबुल]] स्थानांतरित किया और [[पेशावर]] को अपनी शीतकालीन राजधानी बनाया। अहमद शाह दुर्रानी ने अपना साम्राज्य पश्चिम में ईरान के मशाद शहर से पूर्व में [[दिल्ली]] तक और उत्तर में [[आमू दरिया]] से दक्षिण में [[अरब सागर]] तक फैला दिया और उसे कभी-कभी आधुनिक अफ़्ग़ानिस्तान का राष्ट्रपिता माना जाता है।<ref name="LoC">[http://lcweb2.loc.gov/cgi-bin/query/r?frd/cstdy:@field(DOCID+af0010) Ahmad Shah and the Durrani Empire] {{Webarchive|url=https://archive.today/20120722064857/http://lcweb2.loc.gov/cgi-bin/query/r?frd/cstdy:@field(DOCID+af0010) |date=22 जुलाई 2012 }}, Library of Congress Country Studies on Afghanistan, 1997, Accessed 2010-08-25</ref>
 
== इन्हें भी देखें ==
1,12,344

सम्पादन