"बुल्ला की जाना": अवतरणों में अंतर

387 बाइट्स जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
Rescuing 2 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(Rescuing 2 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
| date = 4 जून 2005
| accessdate = 2008-04-23
| archive-url = https://web.archive.org/web/20171201115830/https://www.telegraphindia.com/1050604/asp/calcutta/story_4806895.asp
}}</ref><ref>{{cite news
| archive-date = 1 दिसंबर 2017
| url-status = live
}}</ref><ref>{{cite news
| url = http://www.hindu.com/mp/2005/04/11/stories/2005041100540100.htm
| title = Urban balladeer
| date = 26 मार्च 2005
| accessdate = 2008-04-23
| archive-url = https://web.archive.org/web/20140416134120/http://www.hindu.com/mp/2005/04/11/stories/2005041100540100.htm
}}</ref>
| archive-date = 16 अप्रैल 2014
| url-status = live
}}</ref>
भारत से एक पंजाबी सूफ़ी समूह, वडाली बंधुओं ने भी अपने एलबम ''आ मिल यार... कॉल ऑफ़ द बिलवेड'' में "बुल्ला की जाना" का एक संस्करण जारी किया है। एक और संस्करण लखविंदर वडाली द्वारा "बुल्ला" के नाम से प्रदर्शित किया गया। अपने पहले एल्बम "वज्ज" में अरीब अजहर ने भी इस कविता पर आधारित एक गीत जारी किया।
== सन्दर्भ ==
1,17,605

सम्पादन