"हेनरी स्टुअर्ट, लॉर्ड डार्न्ले" के अवतरणों में अंतर

Rescuing 5 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1
छो (clean up, replaced: |trans_title= → |trans-title= (2) AWB के साथ)
(Rescuing 5 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
'''हेनरी स्टुअर्ट''' या '''स्टुअर्ट, अल्बानी का ड्यूक''' (7 दिसम्बर 1545 – 10 फरवरी 1567), जिसकी १५६५ से पहले नाम की शैली '''लॉर्ड डॉर्न्ले''' थी, कर्को-फील्ड में १५६७ में अपनी हत्या से पहले तक स्कॉटलैंड का [[स्कॉटिश पटराजाओं की सूची|पटराजा]] था।<ref name="Fraser">{{cite book|author=एंटोनिया फ़्रेज़र|title=''Mary Queen of Scots''}}</ref>
 
वह [[मैथ्यु स्टीवर्ट, लेनॉक्स का चौथा अर्ल]] व उसकी पत्नी [[मार्गरेट डगलस]] का दूसरा बेटा था। डार्न्ले के नाना [[आर्किबाल्ड डगलस, एंगस का छठा अर्ल|आर्किबाल्ड डगलस]] और नानी [[हेनरी सप्तम]] की बेटी [[मार्गरेट टुडोर]] थीं जो [[जेम्स ४, स्कॉटलैंड का राजा|स्कॉटलैंड के जेम्स चतुर्थ]] की विधवा भी थीं। ऐसा माना जाता है कि हेनरी स्टुअर्ट का जन्म ७ दिसम्बर को हुआ था। वह स्कॉटलैंड की रानी [[मैरी १ (स्कॉटलैंड की रानी)|मैरी १]] का फुफेरा भाई व दूसरा पति और इंग्लैंड के राजा [[जेम्स ६|जेम्स १]] का पिता था। जेम्स, [[एलिज़ाबेथ प्रथम]] के बाद इंग्लैंड व स्कॉटलैंड का संयुक्त राजा बना था।<ref name=Greig>एलैने फिनी ग्रेग, 'Stewart, Henry, duke of Albany [Lord Darnley] (1545/6–1567)', Oxford Dictionary of National Biography, ऑक्स्फोर्ड विश्वविद्यालय प्रेस, 2004; online edn, Jan 2008 [http://www.oxforddnb.com/index/26/101026473/ accessed 4 March 2012] {{Webarchive|url=https://web.archive.org/web/20121013120549/http://www.oxforddnb.com/index/26/101026473/ |date=13 अक्तूबर 2012 }}</ref>
 
==शुरुवाती जीवन==
 
===राजसी शिक्षा===
लॉर्ड डार्न्ले की शीक्षा-दीक्षा बहुत बेहतरीन व राजसी मानकों के हिसाब से हुई थी। उसे लैटिन, स्कॉटिश-गैलिक, अंग्रेजी व फ्रेंच भाषाओं का ज्ञान था। उसने गायन, वादन और नृत्य में बहुत तरक्की कर ली थी। उसके शिक्षकों में एक स्कॉटिश स्कॉळर व लेखक जॉन एल्डर थे। वो एंग्लो-स्कॉटिश एकीकरण की वकालत करते थे। उनका मानना था मैरी व [[एडवर्ड ६, इंग्लैंड का राजा|एडवर्ड ६]] के विवाह से यह आसानी से संभव हो सकता है। उन्होंने १५४३ में एडवर्ड के पिता व उस वक्त इंग्लैंड के राजा हेनरी अष्टम को इसकी सलाह भी दी थी, जिसके बाद हेनरी ने ऐसा करने के लिए रफ़ वूईंग नामक छद्म युद्ध तक कर डाला।<ref>[http://www.british-history.ac.uk/report.aspx?compid=76781 ''Letters & Papers Henry VIII,'' vol. 18 part 2, (1902), no. 539] {{Webarchive|url=https://web.archive.org/web/20140829135049/http://www.british-history.ac.uk/report.aspx?compid=76781 |date=29 अगस्त 2014 }}: [http://books.google.co.uk/books?id=l1QJAAAAQAAJ&source=gbs_navlinks_s ''Bannatyne Miscellany'', Edinburgh vol. 1, (1827), 1–6] {{Webarchive|url=https://web.archive.org/web/20131012212149/http://books.google.co.uk/books?id=l1QJAAAAQAAJ&source=gbs_navlinks_s |date=12 अक्तूबर 2013 }}</ref>
 
डार्न्ले एक हृष्ट-पुष्ट व मजबूत शरीर वाला नौजवान था, एक अच्छ घुडसवार, अस्त्रों-शस्त्रों का जानकार व शिकार पसंद कुलीन घराने का युवक था।<ref>Ellis, Henry, ed., ''Original Letters illustrative of British History,'' 2nd series vol. 2, (1827) pp. 249–251</ref>
-->
==स्कॉटों की रानी मैरी से विवाह==
[[Image:Mary Stuart James Darnley.jpg|thumb|300px|right|लॉर्ड डॉर्न्ले और मैरी, स्कॉटों की रानी (चित्र लगभग 1565ई. के आसपास का, अब [[हार्डविक हॉल]] में है।)<ref>{{cite web|title=Henry Stuart, Lord Darnley, (1545–1567) and Mary, Queen of Scots (1542–1587), National Trust Inventory Number 1129218|url=http://www.nationaltrustcollections.org.uk/object/1129218|publisher=National Trust for Places of Historic Interest or Natural Beauty, National Trust collections|accessdate=2 February 2014|archive-url=https://web.archive.org/web/20140204015143/http://www.nationaltrustcollections.org.uk/object/1129218|archive-date=4 फ़रवरी 2014|url-status=live}}</ref> ]]
१२ फरवरी १५६५ को डार्न्ले, मैरी से मिलने [[एडिनबर्ग]] पंहुचा। 17 फरवरी को वह मैरी से फाइफ के [[वेमिस किला|वेमिस किले]] में मिला। हॉलहिल के जेम्स मैलविले ने सूचना दी थी कि रानी मैरी डार्न्ले से मिलकर बहुत खुश हुईं थीं और उससे अधिक आकर्षक व कुलीन लंबे कद-काठी वाले नौयुवक से पहले कभी नहीं मिली थीं।<ref>{{cite book|last=मेलविले|first=जेम्स|title=Memoirs of his own life|editor=गॉर्डन डोनाल्डसन|publisher=एएमएस प्रेस|location=न्यूयॉर्क|quote= "Her Majesty took well with him, and said that he was the lustiest and best proportioned long man that she had seen."|year=1973|isbn=0404527183}}</ref> २४ फरवरी के बाद से वह मैरी के साथ ही उनके महल में रहा।
<!--
===सम्मान===
 
*फरवरी 1565: [[ऑर्डर ऑफ सेंट माइकल]], फ्राँस के राजा [[चार्ल्स ९, फ्रांस का राजा|चार्ल्स ९]] द्वारा प्रद्दत।<ref>{{cite book | last1 = एंडरसन | first1 = डंकन | title = History of the Abbey and Palace of Holyrood | trans-title = हॉलीरूड महल और ऐबी का इतिहास | publisher = कीपर ऑफ द चैपेल रोयल | year = 1849 | location = एडिनबर्ग | page = 58 | url = http://books.google.com/books?id=1xkvAAAAMAAJ&pg=PP1#v=onepage&q&f=false | accessdate = १ दिसम्बर २०११ | archiveurl = httphttps://wwwweb.archive.org/detailsweb/historyofabbeypa00ande20160111045058/https://books.google.com/books?id=1xkvAAAAMAAJ&pg=PP1#v=onepage&q&f=false | archivedate = 1511 Decemberजनवरी 20112016 | quote = about the beginning of February 1565-6, the Seigneur de Rembouillet, with a deputation from the King of France, arrived at the Palace, to present Darnley with the order of St. Michael, known as the Scallop or Cockle-shell Order, so called from the escallop shells of which the collar was composed. The investiture was performed after the celebration of mass in the Chapel-Royal | url-status = live }}</ref>
<!--
==In popular culture==
1,08,479

सम्पादन