"अहिल्याबाई होल्कर" के अवतरणों में अंतर

175 बैट्स् जोड़े गए ,  10 माह पहले
Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
| religion = [[हिन्दू]]
}}
'''[https://web.archive.org/web/20191010101608/https://ahilyabaiholkar.in/ अहिल्याबाई होलकर]''' (३१ मई १७२५ - १३ अगस्त १७९५) इतिहास-प्रसिद्ध सूबेदार मल्हारराव होलकर के पुत्र खंडेराव की पत्नी थीं। जन्म इनका सन 1725 में हुआ था और देहांत [[१३ अगस्त|13 अगस्त]] [[१७९५|1795]] को; तिथि उस दिन भाद्रपद कृष्णा चतुर्दशी थी। अहिल्याबाई मालवा साम्राज्य की रानी थीं।
 
== जीवन परिचय ==
चूंकि अहिल्‍याबाई होल्‍कर को एक ऐसी महारानी के रूप में जाना जाता है, जिन्‍होंनें भारत के अलग अलग राज्‍यों में मानवता की भलाई के लिये अनेक कार्य किये थे। इसलिये भारत सरकार तथा विभिन्‍न राज्‍यों की सरकारों ने उनकी प्रतिमायें बनवायी हैं और उनके नाम से कई कल्‍याणकारी योजनाओं भी चलाया जा रहा है।
 
ऐसी ही एक योजना उत्‍तराखंड सरकार की ओर से भी चलाई जा रही है। जो अहिल्‍याबाई होल्‍कर को पूर्णं सम्‍मान देती है। इस योजना का नाम [https://web.archive.org/web/20181112021414/https://www.kanafusi.com/ahilyabai-holkar-bakri-palan-yojana/ ‘अहिल्‍याबाई होल्‍कर भेड़ बकरी विकास योजना] है। अहिल्‍याबाई होल्‍कर भेड़ बकरी पालन योजना के तहत उत्‍तराखंड के बेरोजगार, बीपीएल राशनकार्ड धारकों, महिलाओं व आर्थि<ref>{{Cite web|url=https://www.kanafusi.com/ahilyabai-holkar-bakri-palan-yojana/|title=भेड़ बकरी पालन उत्तराखंड|last=आजमी|first=जमशेद|date=11 नवम्बर 2018|website=Kanafusi| language = hi|archive-url=https://web.archive.org/web/20181112021414/https://www.kanafusi.com/ahilyabai-holkar-bakri-palan-yojana/|archive-date=1112 नवम्बरनवंबर 2018|dead-url=|access-date=11 नवंबर 2018|url-status=live}}</ref> के रूप से कमजोर लोगों को बकरी पालन यूनिट के निर्मांण के लिये भारी अनुदान राशि प्रदान की जाती है। लगभग 100000 रूपये की इस युनिट के निर्मांण के लिये सरकार की ओर से 91770 रूपये सरकारी सहायता रूप में अहिल्‍याबाई होल्‍कर के लाभार्थी को प्राप्‍त होते हैं।
 
==टिप्पणियाँ==
1,08,021

सम्पादन