"भिक्षु (जैन धर्म)" के अवतरणों में अंतर

छो
 
= बौद्ध भिक्षु =
वह जिसके हाथ, पैर और जीभ पर नियंत्रण है; जो पूरी तरह से नियंत्रित है, वह जो मन के विकास में आनंदी रहता है, अपने आप को जो ध्यान में लीन रखता है और संतुष्ट है - उसे लोग बौद्ध भिक्षु कहते हैं। ~  धम्मपद भिखूवगा. सुत्त ३६२ !!
[[श्रेणी:जैन धर्म]]
12

सम्पादन