"अहिल्याबाई होल्कर" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
(Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
 
[[इन्दौर|इंदौर]] में प्रति वर्ष [[भाद्रपद]] कृष्णा [[चतुर्दशी]] के दिन अहिल्योत्सव होता चला आता है। अहिल्याबाई जब 6 महीने के लिये पूरे भारत की यात्रा पर गई तो ग्राम [[उबदी]] के पास स्थित कस्बे अकावल्या के [[पाटीदार]] को राजकाज सौंप गई, जो हमेशा वहाँ जाया करते थे। उनके राज्य संचालन से प्रसन्न होकर अहिल्याबाई ने आधा राज्य देेने को कहा परन्तु उन्होंने सिर्फ यह मांगा कि [[महेश्वर]] में मेरे समाज लोग यदि मुर्दो को जलाने आये तो कपड़ो समेत जलाये।
 
== कार्य ==
अहिल्यादेवींच्या काल के किले :
# किल्ले महेश्वर
# इंदोरचा राजवाडा
# [https://ahilyabaiholkar.in/ahilyabai-holkar-rangmahal-chandwad/ चांदवड : रंगमहाल]
# [https://ahilyabaiholkar.in/yashwantrao-holkar-birthplace-fort-wafgaon/ वाफगाव - यशवंतराजे होळकरका जन्मस्थल]
# [https://ahilyabaiholkar.in/ahilyabai-holkar-wada-khadki/ खडकी-पिंपलगाव : होलकर बाडा]
# [https://ahilyabaiholkar.in/holkar-wada-kathapur/ काठापूर : होलकर बाडा किंवा बाघ बाडा]
# [https://ahilyabaiholkar.in/holkar-wada-pandharpur/ पंढरपूर : होलकर बाडा]
# [https://ahilyabaiholkar.in/lasalgaon-fort/ लासलगाव : अहिल्यादेवीका किला]
# [https://ahilyabaiholkar.in/palshi-fort/ पलशी : पलशीकर बाडा(होलकर दिवाण)]
 
== मतभेद ==
* [[देवी अहिल्या विश्वविद्यालय]]
* [[धनगर]]
* [https://ahilyabaiholkar.in/ अहिल्याबाईका मराठी इतिहास]
 
{{मराठा साम्राज्य}}
7

सम्पादन