"प्रहसन" के अवतरणों में अंतर

168 बैट्स् जोड़े गए ,  3 माह पहले
अबे याद होता तो हम कभी कर लेते ना ideas about that I'm pretty good listener you if you saw you nearly you for 4:30
(Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
(अबे याद होता तो हम कभी कर लेते ना ideas about that I'm pretty good listener you if you saw you nearly you for 4:30)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
[[काव्य]] को मुख्यत: दो वर्गो में विभक्त किया गया है - श्रव्य काव्य और दृश्य काव्य। श्रव्य काव्य के अंतर्गत [[साहित्य]] की वे सभी विधाएँ आती हैं जिनकी रसानुभूति श्रवण द्वारा होती है जब कि दृश्य काव्य का वास्तविक आनंद मुख्यतया नेत्रों के द्वारा प्राप्त किया जाता है अर्थात् [[अभिनय]] उसका व्यावर्तक धर्म है। [[भरतमुनि]] ने दृश्य काव्य के लिये "नाट्य" शब्द का व्यवहार किया है। आचार्यों ने "नाट्य" के दो रूप माने हैं - [[रूपक]] तथा [[उपरूपक]]। इन दोनों के पुन: अनेक उपभेद किए गए हैं। रूपक के दस भेद है; '''प्रहसन''' इन्हीं में से एक है - नाटक, प्रकरण, भाण, मेरे फोन की बेटी टर्नओवर थ्योरी कपूर की बेटी का नाम मेरा तो बहुत व्यायोग, समवकार, डिम, ईहामून, अंक, वीथी, '''प्रहसन'''।
 
== प्रहसन के भेद ==
बेनामी उपयोगकर्ता