"धर्म" के अवतरणों में अंतर

420 बैट्स् नीकाले गए ,  3 माह पहले
छो
2401:4900:1A82:2477:0:0:420:8F05 (वार्ता) के 1 संपादन वापस करके अनुनाद सिंहके अंतिम अवतरण को स्थापित किया (ट्विंकल)
(દરેક ધર્મ ના લોકો એક સ્વરૂપ બની ને પોતાના આત્માને ઓળખે તો સ્વયમ્ પ્રગટ થઈ શકે છે)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (2401:4900:1A82:2477:0:0:420:8F05 (वार्ता) के 1 संपादन वापस करके अनुनाद सिंहके अंतिम अवतरण को स्थापित किया (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
 
हिन्दू धर्म में अनेक स्थलों पर धर्म को किसी ऐसे मानव के रूप में दर्शाया गया है जो न्याय और प्राकृतिक व्यवस्था की प्रतिमूर्ति है।
इसी प्रकार, [[यम]] को 'धर्मराज' कहा जाता है क्योंकि वे मनुष्यों को उनके कर्म के अनुसार निर्णय करके गति देते हैं।.. જે મનુષ્ય દરેક જીવ પ્રત્યે આદર પ્રેમ મિત્રતા રાખી શકે તે શિવ સ્વરૂપ છે દરેક ધર્મ નું પાલન કરી શકે તે જ સત્ય સનાતન ધર્મ સ્થાપનાર માટે તેને સહેલાઈથી શામજી શકે છે..
 
== हिन्दू समुदाय ==