"कामाख्या मन्दिर" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  9 माह पहले
Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.5
(Rescuing 0 sources and tagging 1 as dead.) #IABot (v2.0.1)
(Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.5)
}}
 
'''कामाख्या मंदिर''' [[असम]] की राजधानी दिसपुर के पास गुवाहाटी से ८ किलोमीटर दूर कामाख्या में है। कामाख्या से भी १० किलोमीटर दूर नीलाचल पव॑त पर स्थित है। यह मंदिर शक्ति की देवी सती का मंदिर है। यह मंदिर एक पहाड़ी पर बना है <ref>{{cite web|url= https://www.myoksha.com/kamakhya-temple/|title= कामाख्या मन्दिर|access-date= 19 अगस्त 2016|archive-url= https://web.archive.org/web/20160820093405/https://www.myoksha.com/kamakhya-temple/|archive-date= 20 अगस्त 2016|url-status= livedead}}</ref> व इसका महत् तांत्रिक महत्व है। प्राचीन काल से सतयुगीन तीर्थ कामाख्या वर्तमान में तंत्र सिद्धि का सर्वोच्च स्थल है। पूर्वोत्तर के मुख्य द्वार कहे जाने वाले असम राज्य की राजधानी दिसपुर से 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित नीलांचल अथवा नीलशैल पर्वतमालाओं पर स्थित मां भगवती कामाख्या का सिद्ध शक्तिपीठ सती के इक्यावन शक्तिपीठों में सर्वोच्च स्थान रखता है। यहीं भगवती की महामुद्रा (योनि-कुण्ड) स्थित है। यहाँ मान्यता है, कि जो भी बाहर से आये भक्तगण जीवन में तीन बार दर्शन कर लेते हैं उनके सांसारिक भव बंधन से मुक्ति मिल जाती है । " या देवी सर्व भूतेषू मातृ रूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम: ।
 
== अम्बुवाची पर्व ==
1,08,533

सम्पादन