"भगवान" के अवतरणों में अंतर

392 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
Samuele2002 के अवतरण 4709431पर वापस ले जाया गया : Best regards (ट्विंकल)
(Bharat k baare m aage add kiya h)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Emoji
(Samuele2002 के अवतरण 4709431पर वापस ले जाया गया : Best regards (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
'''भगवान''' गुण वाचक शब्द है जिसका अर्थ गुणवान होता है। यह "भग" धातु से बना है ,भग के ६ अर्थ है:-
१-ऐश्वर्य
२-वीर्य
३-स्मृति
४-यश
५-ज्ञान और
६-सौम्यता
जिसके पास ये ६ गुण है वह भगवान है।
 
संस्कृत भाषा में भगवान "भंज" धातु से बना है जिसका अर्थ हैं:- सेवायाम् । जो सभी की सेवा में लगा रहे कल्याण और दया करके सभी मनुष्य जीव ,भूमि गगन वायु अग्नि नीर को दूषित ना होने दे सदैव स्वच्छ रखे वो भगवान का भक्त होता है
भ -भूमि (धरती )
 
ग - गगन (आकाश )
 
व - वायु (हवा )
 
अ - अग्नि (आग )
 
न -नीर (जल )
 
इसके बिना किसी भी प्रकार से सृष्टि संभव ही नहीं हैँ , ये ही वो पंच -तत्व हैँ जो जीवन को संभव बनाती हैँ ।
 
भारत is the only godlesss culture ❤️ we show devotion towards these five elements as it is the supreme power
 
== संज्ञा ==