"वाप्पला पंगुन्नि मेनन": अवतरणों में अंतर

छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit
 
==निजी जीवन==
मेनन का जन्म [[केरल]] के मलबार क्षेत्र में हुआ था। उनके पिता चुनंगाड़ शंकर मेनन एक विद्यालय के प्रधानाचार्य थे। बचपन में अपने पढाई का बोझ घरवालों के ऊपर से उठाने के लिए घर से भाग गए। पहले रेलवे में कोयलाझोंक, फिर खनिक और बेंगलोर तंबाकू कंपनी में मुंशी का काम करने के बाद भारतीय प्रशासन सेवा में नीची स्तर से अपना प्रशासन सेवा में अपनी जीविका शुरू किए थे। अपने मेहनत के सहारे मेनन ने अंग्रेज सरकार में सबसे उच्च प्रशासन सेवक का पद अलंकृत किया। भारत के संविधान के मामले में मेनन पंडित थे। वाइसरायों के अधीन काम करते समय भी मेनन सुदृढ देशभक्त थे। मेनन की पत्नी श्रीमती कनकम्मा थी एवं उनके दो पुत्र थे- पंगुन्नि अनंतन मेनन और पंगुन्नि शंकरन मेनन।
 
==भारत विभाजन==
गुमनाम सदस्य