"पुत्तिंगल मंदिर हादसा, केरल" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  1 माह पहले
Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.7
(Rescuing 6 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
(Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.7)
 
 
 
'''पुत्तिंगल मंदिर हादसा''' एक भयावह आतिशबाजी विस्फोट है जो 10 अप्रैल 2016 में [[कोल्लम]] के ''परावुर पुत्तिंगल मंदिर'' में [[भारतीय मानक समय|भारतीय मानक समयानुसार(आईएसटी)]] रात्रि 03:30 बजे (22:15 [[ग्रीनविच मीन टाइम|जीएमटी]]) पर हुआ था। इस हादसे में 111 से अधिक लोगों की मौत हो गयी और 350 से अधिक लोग घायल हो गए।<ref>{{cite web|title=Kollam temple fire: 106 dead, over 350 injured |trans-title=कोल्लम मंदिर आग: १०६ की मौत और ३५० से अधिक घायल |url=http://www.thehindu.com/news/national/kerala/kerala-paravur-temple-fireworks-tragedy-several-dead/article8457603.ece?utm_source=RSS_Feed&utm_medium=RSS&utm_campaign=RSS_Syndication |publisher=द हिन्दू |date=10 अप्रैल 2016|language=अंग्रेज़ी |author= सी॰ गौरीदसन नैयर}}</ref><ref name=लाइव हिंदुस्तान>{{cite news|title=कोल्लम मंदिर हादसे में 102 लोगों के मरने की पुष्टि|url=http://www.livehindustan.com/news/national/article1-kerala-paravoor-puttingal-temple-massive-fire-many-died-525209.html|accessdate=10 अप्रैल 2016|archive-url=https://web.archive.org/web/20160413041136/http://www.livehindustan.com/news/national/article1-kerala-paravoor-puttingal-temple-massive-fire-many-died-525209.html|archive-date=13 अप्रैल 2016|url-status=livedead}}</ref>
 
==हादसा==
सुबह 3 बजे के करीब मंदिर में एक समारोह के दौरान आतिशबाज़ी की जा रही थी जिसे देखने के लिए मैदान पर 10 हज़ार से ज्यादा लोग मौजूद थे। इसी दौरान चिंगारियां पास के गोदाम तक पहुंच गई यहाँ गुरुवार को केरल में नववर्ष ([[विषु|विशु]])के मौके के लिए पटाखों का ढेर रखा हुआ था। हादसे का असर डेढ़ किलोमीटर की दूरी तक पड़ा।<ref>{{cite news|title=कोल्लम मंदिर में आग: 'पटाखे फोड़ने की होड़' हो सकती है हादसे की वजह|url=http://khabar.ndtv.com/news/file-facts/competitive-fireworks-may-have-led-to-kollam-temple-fire-officials-say-1370993|accessdate=10 अप्रैल 2016|publisher=[[एनडीटीवी खबर|एनडीटीवी]]|archive-url=https://web.archive.org/web/20160413213150/http://khabar.ndtv.com/news/file-facts/competitive-fireworks-may-have-led-to-kollam-temple-fire-officials-say-1370993|archive-date=13 अप्रैल 2016|url-status=livedead}}</ref> मारे गए लोगों में आम पुरूषों और महिलाओं के अलावा पुलिस अधिकारी भी शामिल थे।<ref name=लाइव हिंदुस्तान />
 
==बचाव==
[[भारत का प्रधानमन्त्री|प्रधानमंत्री]] [[नरेन्द्र मोदी|नरेंद्र मोदी]] ने [[ट्विटर|ट्वीट]] कर बताया कि वह वहां जाएंगे। उन्होंने मृतकों के परिजनों के लिए 2 लाख और घायलों को 50 हजार देने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने [[वायुसेना]] और [[नौसेना]] को घटना स्थल पर फौरन जाने आदेश भी जारी कर दिए हैं।<ref name= लाइव हिंदुस्तान /><ref>{{cite news|title=कोल्लम मंदिर हादसा: प्रधानमंत्री मोदी ने किया मुआवजे का ऐलान|url=http://zeenews.india.com/hindi/india/kollam-temple-incident-modi-announces-compensation/288152|publisher=[[ज़ी न्यूज़]]|accessdate=10 अप्रैल 2016|archive-url=https://web.archive.org/web/20160414083946/http://zeenews.india.com/hindi/india/kollam-temple-incident-modi-announces-compensation/288152|archive-date=14 अप्रैल 2016|url-status=live}}</ref>
 
[[सचिन]] ने ट्वीट किया, "कोल्लम मंदिर में हुए हादसे से हिल गया हूं। पीड़ितों के साथ मेरे विचार और प्रार्थनाएं। भगवान इससे उबरने के लिए मनोबल व शक्ति दें।"<ref>{{cite news|title=सचिन ने कहा, 'कोल्लम हादसे पर हिल गया हूं'|url=http://m.khabar.ibnlive.com/news/desh/sachin-tendulkar-says-shaken-by-kollam-temple-incident-468454.html|publisher=खबर.आईबीइन.कॉम|accessdate=10 अप्रैल 2016|archive-url=https://web.archive.org/web/20160424184839/http://m.khabar.ibnlive.com/news/desh/sachin-tendulkar-says-shaken-by-kollam-temple-incident-468454.html|archive-date=24 अप्रैल 2016|url-status=livedead}}</ref>
 
[[सोनिया गांधी|सोनिया]] ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, "दिवंगत आत्माओं की शांति और घायलों की सलामती की प्रार्थना कर रही हूँ। मैंने सरकार से पर्याप्त और तत्काल राहत के उपाय सुनिश्चित करने के लिए कहा है।"
1,05,299

सम्पादन