"पुरूवास": अवतरणों में अंतर

152 बाइट्स हटाए गए ,  2 वर्ष पहले
छो
Prahalad Saini Suryavanshi (Talk) के संपादनों को हटाकर Arun singh Yaduvanshi के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
छोNo edit summary
टैग: Reverted यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छो (Prahalad Saini Suryavanshi (Talk) के संपादनों को हटाकर Arun singh Yaduvanshi के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
| image=Indian_war_elephant_against_Alexander’s_troops_1685.jpg
|successor=[[मलायकेतु]]|coronation=340 ईसा पूर्व|predecessor=[[राजा बमनी]]|birth_name=पुरुषोत्तम|mother= [[अनुसूईया]]}}
'''राजा पुरुषोत्तम''' या '''राजा पोरस सैनी''' का राज्य पंजाब में [[झेलम नदी|झेलम]] से लेकर [[चनाब नदी|चेनाब]] नदी तक फैला हुआ था। वर्तमान [[लाहौर]] के आस-पास इसकी राजधानी थी।,<ref>{{cite web|url=https://www.bbc.com/hindi/india-42164678|title=सिकंदर को कांटे की टक्कर देने वाले राजा पोरस कौन थे|access-date=4 नवंबर 2018|archive-url=https://web.archive.org/web/20181104222707/https://www.bbc.com/hindi/india-42164678|archive-date=4 नवंबर 2018|url-status=live}}</ref> जिनका साम्राज्य पंजाब में झेलम और चिनाब नदियों तक (ग्रीक में ह्यिदस्प्स और असिस्नस) और उपनिवेश ह्यीपसिस तक फैला हुआ था।
 
सम्राट पोरस सैनी जाती के महाराजा एवं महान योद्धा थे !
 
== जीवनी ==