"अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस" के अवतरणों में अंतर

Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.7
छो (Rahulguptakattarhindu (वार्ता) द्वारा किए बदलाव को Isabelle Belato के बदलाव से पूर्ववत किया: स्पैम लिंक।)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना SWViewer [1.4]
(Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.7)
 
१७ नवम्बर १९६५ को [[युनेस्को]] ने ८ सितम्बर को '''अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस''' (International Literacy Day) घोषित किया। इसको पहली बार १९६६ में मनाया गया। इसका उद्देश्य व्यक्तिगत, सामुदायिक और सामाजिक रूप से साक्षरता के महत्व पर प्रकाश डालना है। यह उत्सव दुनियाभर में मनाया जाता है।<ref>{{Cite web |url=http://www.unesco.org/new/en/education/themes/education-building-blocks/literacy/advocacy/international-literacy-day/ |title=संग्रहीत प्रति |access-date=27 सितंबर 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20120711162234/http://www.unesco.org/new/en/education/themes/education-building-blocks/literacy/advocacy/international-literacy-day/ |archive-date=11 जुलाई 2012 |url-status=live }}</ref>
 
लगभग ७७.५ करोड़ युवा साक्षरता की कमी से प्रभावित हैं; अर्थात पाँच में से एक युवा अभी तक साक्षर नहीं है और इनमें से दो तिहायी महिलायें हैं।<ref>{{Cite web |url=http://www.uis.unesco.org/literacy/Pages/adult-youth-literacy-data-viz.aspx |title=संग्रहीत प्रति |access-date=27 सितंबर 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20120728142045/http://www.uis.unesco.org/literacy/Pages/adult-youth-literacy-data-viz.aspx |archive-date=28 जुलाई 2012 |url-status=livedead }}</ref> ६.७ करोड़ बच्चे विद्यालयों तक नहीं पहुँचते और बहुत बच्चों में नियमितता का अभाव है अथवा बीच में छोड़ देते हैं।<ref>{{Cite web |url=http://stats.uis.unesco.org/unesco/TableViewer/chartView.aspx |title=संग्रहीत प्रति |access-date=27 सितंबर 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20140323123602/http://stats.uis.unesco.org/unesco/TableViewer/chartView.aspx |archive-date=23 मार्च 2014 |url-status=live }}</ref>
 
==इन्हें भी देखें==
1,06,799

सम्पादन