"न्यूट्रॉन" के अवतरणों में अंतर

4,370 बैट्स् नीकाले गए ,  11 माह पहले
छो
Physics Enthusiast wiki (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
(included image of the neutron)
छो (Physics Enthusiast wiki (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
न्यूट्रॉन की खोज जेम्स चैडविक ने 1931 में की थी।। '''न्यूट्रॉन''' एक आवेश रहित [[मूलकण|मूलभूत कण]] है, जो [[परमाणु]] के नाभिक में [[प्रोटॉन]] के साथ पाये जाते हैं। इसे n से दर्शाया जाता है।
=== न्यूट्रॉन क्या है ===
न्यूट्रॉन एक उपपरमाण्विक कण है जो की सभी प्रकार के पदार्थों के [[परमाणु]] के [[परमाणु नाभिक|नाभिक]] में पाया जाता है। प्रोटॉन और न्यूट्रॉन मिलकर परमाणु के नाभिक का निर्माण करते हैं। न्यूट्रॉन एक विद्युत उदासीन कण है जिसका द्रव्यमान '''''1.67493 × 10−27 kg''''' होता है, जो कि [[इलेक्ट्रॉन]] के द्रव्यमान से 1,839 गुना ज्यादा है। न्यूट्रॉन पूर्ण रूप से एक [[मूलकण|मूलभूत कण]] नही है बल्कि यह और भी छोटे अस्थाई सूक्ष्म कणों से मिलकर बना रहता है जिन्हे [[क्वार्क|क्वॉर्क]] कहते हैं। न्यूट्रॉन तीन क्वॉर्क से मिलकर बना होता है, जिसमे दो डाउन क्वॉर्क होते हैं तथा एक अप क्वॉर्क होता हैं।
[[चित्र:Quark structure neutron.svg|पाठ=दो डाउन तथा एक अप क्वॉर्क से मिलकर बना हुआ न्यूट्रॉन|अंगूठाकार|क्वार्क से मिलकर बना हुआ न्यूट्रॉन]]
 
=== न्यूट्रॉन की खोज ===
न्यूट्रॉन की खोज सन 1932 में ब्रिटिश भौतिक वैज्ञानिक [[जेम्स चैडविक|जेम्स चेडविक]] ने की थी। इससे पहले सन 1920 में अपने प्रयोगों के आधार पर [[अर्नेस्ट रदरफोर्ड|रदरफोर्ड]] ने परमाणु के नाभिक में एक ऐसे कण की उपस्थित की संभावना बताई थी जिसका द्रव्यमान तो प्रोटॉन के बराबर हो तथा वह विद्युत आवेश रहित उदासीन कण हो। और अंततः जेम्स चेडविक ने अपने प्रयोग द्वारा परमाणु के नाभिक में इस कण की खोज कर ली और और उन्होंने इसे न्यूट्रॉन नाम दिया।
=== न्यूट्रॉन के गुण ===
* '''द्रव्यमान एवं आवेश'''- न्यूट्रॉन एक विद्युत उदासीन कण है जिसका द्रव्यमान 1.67493 × 10−27 kg होता है।
* '''स्थायित्व'''- न्यूट्रॉन परमाणु के नाभिक में तो स्थाई रूप से पाया जाता है लेकिन स्वच्छ रूप से अपने आप में यह स्थाई कण नहीं है। जब प्रोटॉन नाभिक में उपस्थित ना होकर खुले में उपस्थित होता है तब इसका [[रेडियोसक्रियता|रेडियोएक्टिव]] क्षय होना शुरू हो जाता है। न्यूट्रॉन रेडियोएक्टिव क्षय के परिणामस्वरूप एक प्रोटॉन, एक इलेक्ट्रॉन और एक एंटीन्यूट्रिनो में टूट जाता है। न्यूट्रॉन के रेडियोएक्टिव क्षय की अर्ध आयु 614 सेकंड होती है।
{{कण}}
[[श्रेणी:भौतिकी]]