"चाहरवाटी" के अवतरणों में अंतर

63 बैट्स् जोड़े गए ,  4 माह पहले
पाठ में सुधार (छोटा)
(यह एक क्षेत्र का नाम है)
 
(पाठ में सुधार (छोटा))
टैग: 2017 स्रोत संपादन
 
'''चाहरवाटी'''<ref>{{Cite web|url=https://www.livehindustan.com/news/article/article1-story-213483.html|title=चाहरवाटी में होगा चुनाव घमासान|website=https://www.livehindustan.com|language=hindi|access-date=2019-09-12}}</ref><ref>{{Cite web|url=https://www.jagran.com/uttar-pradesh/agra-city-14591444.html|title=दरिंदे के परिवार से चाहरवाटी की तौबा|website=Dainik Jagran|language=hi|access-date=2019-09-12}}</ref> क्षेत्र आगरा जिले में आगरा तहसील, फतेहबाद, खेरागढ़ तहसील में अवस्थित है|है। चाहरवाटी क्षेत्र में 242 ग्राम चाहर जाटों के आते है|है। यह चाहर जाट बड़े वीर और लड़ाकू प्रवृति के माने जाते है|हैं। इस क्षेत्र में आने से पहले यह लोग नरवर के राजा थेथे। यह मूल रूप से नागवंशी है|हैं। इस क्षेत्र में इन्होने रोड़ो को हराकर कागारौल पर सोलंकी जाटों के साथ कब्ज़ा जमा लिया था|था। जैंगारा, ,कागारोल <ref>{{Cite web|url=https://www.amarujala.com/uttar-pradesh/agra/Agra-49661-3|title=स्टेडियम में रफी अहमद का राज, चाहरवाटी चमका|website=Amar Ujala|access-date=2019-09-12}}</ref>चैंकोरा, अकोला<ref>{{Cite web|url=https://www.jagran.com/uttar-pradesh/agra-city-13886002.html|title=तहसील के लिए लखनऊ में गरजेगी चाहरवाटी|website=Dainik Jagran|language=hi|access-date=2019-09-12}}</ref> में इनका प्राचीन गढ़ आज भी मरणासन्न अवस्था में खड़ा है|है। अकोला को चाहरवाटी की राजधानी बोला जाता है|है। मुग़ल काल में बाघराम चाहर , रामकी चाहर, मोझिया चाहर , बाबा घासीराम चाहर जैसे योद्धा इस भूमि पर जन्मे थे|थे। मुगलों से संघर्ष का इनका बड़ा रोमांचकारी इतिहास रहा है|है।
==संदर्भ==