"वाक्य और वाक्य के भेद" के अवतरणों में अंतर

छो
2409:4050:2E8B:1A4D:F375:982C:B956:1F4B (वार्ता) द्वारा किए बदलाव को कप्तान1 के बदलाव से पूर्ववत किया: बर्बरता हटाई।
(Yjwk6ele7kel6e6keowk5wkek5ek5ekyeye e6ke66eke6ke6kyeyjddbfskydgnzgdkdyldylddyfufuigfuf)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका nonsense characters
छो (2409:4050:2E8B:1A4D:F375:982C:B956:1F4B (वार्ता) द्वारा किए बदलाव को कप्तान1 के बदलाव से पूर्ववत किया: बर्बरता हटाई।)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना SWViewer [1.4]
*(३) '''मिश्रित/मिश्र वाक्य''' - जिन वाक्यों में एक मुख्य या प्रधान वाक्य हो और अन्य आश्रित उपवाक्य हों, उन्हें मिश्रित वाक्य कहते हैं। इनमें एक मुख्य उद्देश्य और मुख्य विधेय के अलावा एक से अधिक समापिका क्रियाएँ होती हैं, जैसे - ज्यों ही उसने दवा पी, वह सो गया। यदि परिश्रम करोगे तो, उत्तीर्ण हो जाओगे। मैं जानता हूँ कि तुम्हारे अक्षर अच्छे नहीं बनते है।
 
==सन्दर्भ==
==6i2w6k6kerr7pe614q4ywdkdykldyoof7pro6dykfykdjydo7ri6do6s6t7tl74i6r7ltkyryrr6or6oro6https://hi.m.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%AF_%E0%A4%94%E0%A4%B0_%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%AF_%E0%A4%95%E0%A5%87_%E0%A4%AD%E0%A5%87%E0%A4%A6#/editor/7==
{{टिप्पणीसूची}}
{{हिन्दी व्याकरण}}
229

सम्पादन