"प्रकाश का वेग": अवतरणों में अंतर

1 बाइट जोड़ा गया ,  1 वर्ष पहले
छो
2409:4043:2300:ED56:0:0:36D:8B0 (Talk) के संपादनों को हटाकर InternetArchiveBot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: Reverted मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छो (2409:4043:2300:ED56:0:0:36D:8B0 (Talk) के संपादनों को हटाकर InternetArchiveBot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
इस प्रकार इन सब विधियों से निकाले हुए प्रकाशवेग के मानों का अध्ययन कर हम कह सकते हैं कि सबसे यथार्थ प्रकाशवेग मान 2,99,793.0 किलोमीटर प्रति सेकंड है।
 
==तात्पर्यटीका में प्रकाश का वेग==
[[वाचस्पति मिश्र]] द्वारा रचित [[तात्पर्यटीका]] में प्रकाश के वेग, और उसके द्वैत स्वभाव का उल्लेख है।