"दिक्पाल" के अवतरणों में अंतर

140 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
No edit summary
No edit summary
 
 
[[चित्र:Parshvanatha Temple, Khajuraho, the southeast corner, with guardians Indra (E) and Agni (SE)|अंगूठाकार]]
पुराणानुसार दसों दिशाओं का पालन करनेवाला देवता। यथा-पूर्व के इन्द्र, अग्निकोण के वह्रि, दक्षिण के यम, नैऋत्यकोण के नैऋत, पश्चिम के वरूण, वायु कोण के मरूत्, उत्तर के कुबेर, ईशान कोण के ईश, ऊर्ध्व दिशा के ब्रह्मा और अधो दिशा के अनंत।
 
18

सम्पादन