"आम्हीही इतिहास घडवला (किताब)" के अवतरणों में अंतर

→‎रचना: अंकों में एकरूपता
छो (संदर्भ सुधार)
(→‎रचना: अंकों में एकरूपता)
 
==रचना==
यह किताब दो खंड में विभाजित है। पहले खंड में आम्बेडकरी आंदोलन और बीसवीं सदी में आयोजित सभी आन्दोलनों में महिलाओं की सहभागिता व संलग्नता का विश्लेषण किया गया है। दुसरे खंड में कुल ४५45 दलित महिलाओं की जीवनी और अन्तरवार्ता पेश किए गए है। इनमे आम्बेडकर की पहली पत्नी [[रमाबाई आम्बेडकर]], 1942 में [[नागपुर]] स्थित अखिल भारतीय अनुसूचित जाति महिला परिषद की अध्यक्ष [[सुलोचनाबाई डोंगरे]] और 1956 में अखिल भारतीय बौद्ध महिला असोसिएशन की अध्यक्ष [[सखुबाई मोहिते]] की जीवनियाँ शामिल है।
 
==प्रतिक्रियाएँ==
57

सम्पादन