"निखत ज़रीन" के अवतरणों में अंतर

42 बैट्स् जोड़े गए ,  2 माह पहले
सम्पादन सारांश रहित
'''निखत ज़रीन''' (जन्मः 14 जून 1996), भारतीय महिला [[मुक्केबाज़ी|मुक्केबाज़]] हैं। इन्होंने 2011 के एआईबीए महिला युवा और जूनियर विश्व चैंपियनशिप में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता।<ref name=":0">{{Cite web|url=https://timesofindia.indiatimes.com/sports/boxing/4-indians-win-gold-in-aiba-womens-youth-junior-world-championship/articleshow/8128801.cms|title=4 Indians win gold in AIBA Women's Youth & Junior World Championship {{!}} Boxing News - Times of India|last=Apr 30|first=PTI / Updated:|last2=2011|website=The Times of India|language=en|access-date=2021-02-16|last3=Ist|first3=21:28}}</ref>
 
हाल ही में बैंकॉक में आयोजित थाइलैंड ओपन इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट (2019) में ज़रीन ने रजत पदक प्राप्त किया।<ref name=":1">{{Cite web|url=https://timesofindia.indiatimes.com/entertainment/events/hyderabad/this-silver-medal-at-thailand-open-is-a-huge-confidence-boost-for-me-ahead-of-the-world-championships-nikhat-zareen/articleshow/70410265.cms|title=This silver medal at Thailand Open is a huge confidence boost for me ahead of the World Championships: Nikhat Zareen - Times of India|website=The Times of India|language=en|access-date=2021-02-16}}</ref> इसके साथ ही इन्होंने असम में आयोजित 16वीं सीनियर महिला राष्ट्रीय मुक्केबाज़ी चैम्पियनशिप 2015 में स्वर्ण पदक जीता।<ref name=":2">{{Cite web|url=https://indtoday.com/|title=Indtoday News {{!}} Hyderabad Local News {{!}} Telangana|date=2013-08-23|language=en-US|access-date=2021-02-16}}</ref>
 
== '''व्यक्तिगत जीवन और पृष्ठभूमि''' ==
14 जून 1996 को [[तेलंगाना]] के निज़ामाबाद में मुहम्मद जमील अहमद और परवीन सुल्ताना के घर जन्मीं ज़रीन ने केवल 13 साल की उम्र में ही बॉक्सिंग शुरू कर दी थी।<ref>{{Cite web|url=http://www.indiaboxing.in/boxerdetails.php?regno=8861|title=Indian Boxing Federation Boxer Details|website=www.indiaboxing.in|access-date=2021-02-16}}</ref><ref name=":3">{{Cite web|url=https://sportstar.thehindu.com/boxing/womens-day-special-boxer-nikhat-zareen-mary-kom-olympic-qualifiers-trials/article31014865.ece|title=Women who inspire us: Nikhat Zareen|last=Sportstar|first=Team|website=Sportstar|language=en|access-date=2021-02-16}}</ref>
 
2015 में जब ज़रीन हैदराबाद के एवी कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई कर रही थीं तभी वे जालंधर में आयोजित ऑल इंडिया इंटर-यूनिवर्सिटी बॉक्सिंग चैंपियनशिप में "सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाज़" बनीं।<ref>{{Cite news|url=https://www.thehindu.com/news/cities/Hyderabad/nikhat-zareen-packs-a-punch/article6935340.ece|title=Nikhat Zareen packs a punch|date=2015-02-26|work=The Hindu|access-date=2021-02-16|others=Special Correspondent|language=en-IN|issn=0971-751X}}</ref> ज़रीन अक्सर मुक्केबाज़ मैरी कॉम को अपनी  प्रेरणा बताती है।<ref name=":3" />