"ज्वारीय शक्ति" के अवतरणों में अंतर

1,135 बैट्स् जोड़े गए ,  10 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
समुद्र में आने वाले [[ज्वार-भाटा]] की उर्जा को उपयुक्त टर्बाइन लगाकर विद्युत में बदल दिया जाता है। इसमें दोनो अवस्थाओं में विद्युत शक्ति पैदा होती है - जब पानी उपर चढ़ता है तब भी और जब पानी तरने लगता है तब भी। इसे ही '''लहर उर्जा''' (tidal power) कहते हैं। यह एक [[अक्षय उर्जा]] का स्रोत है।
फ्ग्गे द्फ्ग्त्र्ग्त्र ग्र्त्य्हीर फ्त्र्ह्य्ग्फेर्ह्५ त्ज्युक्युफ् ५य्ज्कुन्ग फ्ह्त्ज्ग्फ् त्४५ज्त ग्फ्बेर्ह्त्र्देर्घ्न्फ् ब्त्र्न्त
 
{{delete}}
लहर उर्जा का अभी भी बहुत कम उपयोग आरम्भ हो पाया है। किन्तु इसमें भविष्य के लिये अपार उर्जा प्रदान करने की क्षमता निहित है। ज्वार-भाटा के आने और जाने का समय काफी सीमा तक पहले से ही ज्ञात होता है जबकि इसके विपरीत [[पवन उर्जा]] और [[सौर उर्जा]] का पूर्वानुमान अपेक्षाकृत कठिन कार्य है।
 
[[श्रेणी:उर्जा]]
[[श्रेणी:अक्षय उर्जा]]