"युग वर्णन" के अवतरणों में अंतर

4 बैट्स् जोड़े गए ,  9 माह पहले
छो
2409:4063:418B:4FA8:7147:B638:BF47:DBF7 (Talk) के संपादनों को हटाकर Hasley के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
छो (2409:4063:418B:4FA8:7147:B638:BF47:DBF7 (Talk) के संपादनों को हटाकर Hasley के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
*पाप - १०
*[[पुण्य]] - १०
*[[अवतार]] – [[कृष्ण]], (देवकी के गर्भ से एंव नंद के घर पालन-पोषण), [[बलराम]]
*कारण – कंसादि दुष्टो का संहार एंव गोपों की भलाई, दैत्यो को मोहित करने के लिए।
*[[मुद्रा (भाव भंगिमा)|मुद्रा]] – [[चाँदी]]
*[[पाप]] - १५
*पुण्य - ५
*अवतार – बौद्ध, [[कल्कि]] ([[ब्राह्मण]] विष्णु यश के घर)।
*कारण – मनुष्य जाति के उद्धार अधर्मियों का विनाश एंव धर्म कि रक्षा के लिए।
*[[मुद्रा (भाव भंगिमा)|मुद्रा]] – [[लोहा]]