"मोना लीज़ा" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् नीकाले गए ,  8 माह पहले
छो
2409:4063:2296:A1B0:0:0:39F:8AC (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
छो (2409:4063:2296:A1B0:0:0:39F:8AC (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
==निर्माता==
 
मोनालिसा विश्‍व प्रसिद्ध इटली के महान कलाकार लियनार्डो दि विंची की वह अमर कलाकृति है जिसे विंची ने सन् 1503 से 15171506 के मध्य पेंट किया इस चित्र को बनाने में लियनार्डो को चौदहचार वर्ष लगे, यद्यपि इसी दौरान उन्होंने ''सेंट पॉल बपतिस्त'' तथा ''वर्जिन एण्ड चाईल्ड विद सेंट आंद्रे'' नामक दो अन्य कलाकृतियाँ भी बनाई। लगभग 500 वर्ष पूर्व 30.5” ऊँचे 20 7/8 चौड़े, 12 मी0 मी0 मोटाई के पोपलर लकड़ी के पैनल पर तेल के रंगों से यह चित्र बनाया गया।<ref name=":0">{{Cite web|url=https://nari.punjabkesari.in/nari/news/untold-facts-of-mona-lisa-painting-1032965|title=दुनिया की रहस्यमय पेटिंग मोनालिसा से जुड़े 7 राज - mobile|date=2019-08-01|website=punjabkesari|access-date=2020-09-19}}</ref>
 
इस कलाकृति को बनाने वाले कालजयी कलाकार लियोनार्दो दा विंची का जन्म ईटली के फ्लोरेंस शहर के पूर्व दिशा में स्‍थित विंची नामक एक छोटे से कस्बे में सन् 1452 को हुआ था। इनके पिता सर पियरें द विंची एक नोटरी थे। बचपन से ही कला में लियनार्डो की गहरी रूची देखते हुए पिता ने कला की उच्च शिक्षा के लिए उसे पैरिस भेज दिया। जो कि उस समय कला शिक्षा का एक प्रमुख केन्द्र था, यहाँ रह कर वे एक बेराकिया के स्टूडियों में कला की शिक्षा लेने लगे। यहाँ रहकर लियनार्डो ने अपने गुरू से चित्रकला का व्यापक ज्ञान प्राप्‍त किया व इसकी बारीकियों से परिचित हुए। शीघ्र ही गुरू ने महसूस किया कि उनका शिष्य उनसे भी कहीं गुणी व प्रतिभावान है, अतः गुरू के पास जितना भी ज्ञान था, अपने शिष्य विंची को दे दिया।