"होली" के अवतरणों में अंतर

60 बैट्स् नीकाले गए ,  1 माह पहले
छो
2409:4053:38A:9F25:0:0:446:AD (वार्ता) द्वारा किए बदलाव को सौरभ तिवारी 05 के बदलाव से पूर्ववत किया: स्पैम लिंक।
(Happy holi Wishes)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
छो (2409:4053:38A:9F25:0:0:446:AD (वार्ता) द्वारा किए बदलाव को सौरभ तिवारी 05 के बदलाव से पूर्ववत किया: स्पैम लिंक।)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना SWViewer [1.4]
}}
 
'''होली''' [[वसंत]] ऋतु में मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण [[भारतीय]] और [[नेपाली]] लोगों का त्यौहार है। यह [[पर्व]] [[हिंदू]] [[पंचांग]] के अनुसार [[फाल्गुन]] [[मास]] की [[पूर्णिमा]] को मनाया जाता है। HH
 
Happy Holi [https://happpyhooli2021.blogspot.com Wishes] होली रंगों का तथा हँसी-खुशी का त्योहार है। यह भारत का एक प्रमुख और प्रसिद्ध त्योहार है, जो आज विश्वभर में मनाया जाने लगा है।<ref>{{समाचार सन्दर्भ|title= होली-रंगों का त्यौहार|url= https://www.dekhoyaar.com/holi-festival-of-colours/]}}</ref>
रंगों का त्यौहार कहा जाने वाला यह पर्व पारंपरिक रूप से दो दिन मनाया जाता है। यह प्रमुखता से [[भारत]] तथा [[नेपाल]] में मनाया जाता है। यह त्यौहार कई अन्य देशों जिनमें अल्पसंख्यक [[हिन्दू]] लोग रहते हैं वहाँ भी धूम-धाम के साथ मनाया जाता है।<ref>{{Cite web |url=http://www.chhathpuja.co/community/viewdiscussion/1836-holi-essay-in-hindi-%E0%A4%B9%E0%A5%8B%E0%A4%B2%E0%A5%80-%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AC%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A7?groupid=130 |title=: होली |access-date=6 फ़रवरी 2014 |archive-url=https://web.archive.org/web/20150923202717/http://www.chhathpuja.co/community/viewdiscussion/1836-holi-essay-in-hindi-%E0%A4%B9%E0%A5%8B%E0%A4%B2%E0%A5%80-%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AC%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A7?groupid=130 |archive-date=23 सितंबर 2015 |url-status=dead }}</ref> पहले [[दिन]] को होलिका जलायी जाती है, जिसे [[होलिका दहन]] भी कहते हैं। दूसरे दिन, जिसे प्रमुखतः धुलेंडी व धुरड्डी, धुरखेल या [[धूलिवंदन]] इसके अन्य नाम हैं, लोग एक दूसरे पर [[रंग]], [[अबीर-गुलाल]] इत्यादि फेंकते हैं, ढोल बजा कर होली के गीत गाये जाते हैं और घर-घर जा कर लोगों को रंग लगाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि होली के दिन लोग पुरानी कटुता को भूल कर गले मिलते हैं और फिर से दोस्त बन जाते हैं। एक दूसरे को रंगने और गाने-बजाने का दौर दोपहर तक चलता है। इसके बाद स्नान कर के विश्राम करने के बाद नए कपड़े पहन कर शाम को लोग एक दूसरे के घर मिलने जाते हैं, गले मिलते हैं और [[मिठाई|मिठाइयाँ]] खिलाते हैं।<ref name="colors">{{cite web|url= http://www.thecolorsofindia.com/holi-celebrations.html|title= Holi Celebrations|access-date= 3 मार्च 2008|format= एचटीएमएल|publisher= द कलर्स ऑफ़ इंडिया|language= en|archive-url= https://web.archive.org/web/20080308180703/http://www.thecolorsofindia.com/holi-celebrations.html|archive-date= 8 मार्च 2008|url-status= dead}}</ref>
 
207

सम्पादन