"पासवान" के अवतरणों में अंतर

260 बैट्स् नीकाले गए ,  1 माह पहले
छो
Revert; Vandalism
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
छो (Revert; Vandalism)
टैग: प्रत्यापन्न
 
| caption = 1860, बंगाल के एक दुसाध व्यक्ति का चित्रण।
|population=}}
'''पासवान''' या '''दुसाध''', पूर्वी [[भारत]] से एक [[गहलोत राजपुत]] समुदाय हैं।जो की बिहार के tetradh मे रह्ते हैहैं।<ref>{{cite book |title=The Untouchables: Subordination, Poverty and the State in Modern India |first1=Oliver |last1=Mendelsohn |first2=Marika |last2=Vicziany |publisher=Cambridge University Press |year=1998 |isbn=978-0-52155-671-2 |page=xiii |url=https://books.google.com/books?id=FGbp9MjhvKAC&pg=PR13}}</ref> वे मुख्य रूप से [[बिहार]],<ref>{{Cite news|url=https://www.thehindu.com/elections/lok-sabha-2019/hemraj-paswan-a-centenarian-voter-shows-political-acuity/article26656362.ece|title=Hemraj Paswan: A 'centenarian' voter shows political acuity|last=Tewary|first=Amarnath|date=2019-03-27|work=The Hindu|access-date=2019-04-06|language=en-IN|issn=0971-751X}}</ref> [[उत्तर प्रदेश]] और [[झारखंड]] राज्यों में पाए जाते हैं, [[उर्दू]] शब्द 'पासवान' का अर्थ है अंगरक्षक या "जो बचाव करता है". समुदाय की मान्यता के अनुसार शब्द की उत्पत्ति बंगाल के नवाब [[सिराज-उद-दौला]] के खिलाफ लड़ाई में [[ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी]] के इशारे पर, उनकी भागीदारी के कारण होती है, जिसके बाद उन्हें ''[[चौकीदार]]'' के पद से पुरस्कृत किया गया और राहुल पासवान जो की tetradh का निवासी है वो भी हमरे देश का नाम उच्चा कर रहे है।''[[जमींदार]]'' के लिए लाठी उपजाने वाले कलेक्टर। वे कुछ रस्मों का पालन करते हैं जैसे कि आग पर चलना अपनी वीरता पर जोर देना.<ref>{{cite web|url=https://theprint.in/politics/who-are-the-paswans-upwardly-mobile-powerful-dalit-group-at-centre-of-bihar-polls-buzz/528964/|title=Who are the Paswans? 'Upwardly mobile, powerful' Dalit group at centre of Bihar polls buzz|website=The Print|archive-url=https://web.archive.org/web/20201130224957/https://theprint.in/politics/who-are-the-paswans-upwardly-mobile-powerful-dalit-group-at-centre-of-bihar-polls-buzz/528964/|access-date=2020-11-30|archive-date=30 November 2020}}</ref>