"निघंटु" के अवतरणों में अंतर

6 बैट्स् नीकाले गए ,  4 माह पहले
छो
ऑटोमैटिड वर्तनी सुधार
(Rescuing 3 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
छो (ऑटोमैटिड वर्तनी सुधार)
 
 
=== निघंटु की विषय-वस्तु ===
निघंटु के पाँच अध्याय हैं। प्रारंभ के तीन अध्यायों में "नैघंटुक" शब्दों का संग्रह है। चतुर्थ अध्याय में "नैगम" शब्द और पंचम अध्याय में "दैवत" शब्द एकत्रितएकत्र किए गए हैं। प्रत्येक अध्याय में विभागद्योतक खंड हैं। पहले तीन अध्यायों में सजातीय शब्दों का चयन किया गया है। यह नियम चतुर्थ और पंचम अध्यायों में नहीं है।
 
==== प्रथम अध्याय ====