"गंजापन" के अवतरणों में अंतर

3,112 बैट्स् नीकाले गए ,  4 माह पहले
छो
2402:8100:2348:75D9:7D5D:1836:2D15:9938 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit
छो (2402:8100:2348:75D9:7D5D:1836:2D15:9938 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन प्रत्यापन्न उन्नत मोबाइल सम्पादन
अमृतम पत्रिका, ग्वालियर मप्र से साभार...
 
गंजों की विशेषताएं….
 
गंजे लोग दिमाग से बहुत प्रतिभशाली होते हैं। ये जीवन में हर काम सोच समझकर करने के कारण धोखा कम खाते हैं।
 
■ गंजे व्यक्ति धैर्य, शांति रखने वाले होते हैं। किसी काम में जल्दबाजी नहीं करते। ये लोग अक्सर हाल में खुश रहने के गुण से वाकिफ होते हैं।
 
■ इश्क, प्यार से ये लोग अक्सर दूर रहते हैं। ये प्रेमियों की तरह वेवकूड़ी वाले सवाल नहीं करते।
 
■ देखें एक बानगी…
 
मैंने पूछा चाँद से कि देखा है कही,
मेरे यार सा हसीं…!!!
चाँद ने कहा – इश्क में अँधा तू है, मैं नहीं…
 
■ ज्योतिष के हिसाब से अधिकांश गंजे इंसानों की लग्न स्थिर होती है अर्थात ये लोग वृषभ, सिंह और कुंभ लग्न में जन्म लेते हैं।
 
■ कभी कभी कुछ लोग स्थिर राशि वाले भी गंजे देखे गए हैं।
 
■ ये लोग जिस काम को करते हैं वह स्थाई रूप से जमने के हिसाब से करते हैं।
 
■ गंजे होने के चमत्कारिक फायदे….
 
धन बढ़े-लक्ष्मी मिले, बाल न बांका होए।
 
तेल बचे साबुन बचे, जो कोई गंजा होए।।
 
जो कोई गंजा होए बुढापा नजर न आवे।
 
देख चमकती चांद, चांद भी धोखा खावे।।
 
कहें अशोक कविराय प्रभुजी कर दो सबको गंजा।
 
न होंगे नाखून, ना होगा जग में दंगा।।
 
■ गंजेपन से बचने के लिए अमृतम
 
कुन्तल केयर हर्बल हेयर spa (हेम्पयुक्त)
 
बालों में लगाकर सुखाएं और अमृतम
 
भृङ्गराज हेयर थेरेपी शेम्पू से बाल धोएं।
 
ये दोनों 100 फीसदी आयुर्वेदिक केश उत्पाद हैं।
 
 
 
[[चित्र:Bald head.jpg|right|thumb|पुरुष पैटर्न का गंजापन]]
'''गंजापन''' (Baldness) की स्थिति में सिर के [[बाल]] बहुत कम रह जाते हैं। गंजापन की मात्रा कम या अधिक हो सकती है। गंजापन को '''एलोपेसिया''' भी कहते हैं। जब असामान्य रूप से बहुत तेजी से बाल झड़ने लगते हैं तो नये बाल उतनी तेजी से नहीं उग पाते या फिर वे पहले के बाल से अधिक पतले या कमजोर उगते हैं। इसके चलते बालों का कम होना या कम घना होना शुरू हो जाता है और ऐसी हालत में सचेत हो जाना चाहिए क्योंकि यह
15,165

सम्पादन