"मनु" के अवतरणों में अंतर

366 बैट्स् जोड़े गए ,  5 माह पहले
काल क्रम में स्पष्टता हेतु जैनों के प्रथम तीर्थंकर का अन्य अवतारों के साथ काल रेखा स्पष्ट उल्लेख।
(- कड़ी, शीर्षक को यहाँ अनुप्रेषित किया गया है।)
(काल क्रम में स्पष्टता हेतु जैनों के प्रथम तीर्थंकर का अन्य अवतारों के साथ काल रेखा स्पष्ट उल्लेख।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका Reverted
 
== मनुओं की संख्या ==
हिंदू धर्म में स्वायंभुव मनु के ही कुल में आगे चलकर स्वायंभुव सहित कुल मिलाकर क्रमश: १४ मनु हुए। [[महाभारत]] में ८ मनुओं का उल्लेख मिलता है व श्वेतवराह कल्प में १४ मनुओं का उल्लेख है। जैनहिन्दू धर्म के बुद्ध अवतार के पूर्व और कृष्ण पूर्ण अवतार के पश्चात 22 वें अंश अवतार ऋषभदेव के अनुयायियों द्वारा प्रपादित शाखा पंथ द्वारा विरचित ग्रन्थों में १४ [[कुलकर|कुलकरों]] का वर्णन मिलता है।<ref name="रूपरेखा">[http://hindi.webdunia.com/religion/sanatandharma/history/0909/04/1090904045_1.htm वैवस्वत मनु के इतिहास की रूपरेखा ] {{Webarchive|url=https://web.archive.org/web/20100106102045/http://hindi.webdunia.com/religion/sanatandharma/history/0909/04/1090904045_1.htm |date=6 जनवरी 2010 }}। वेब दुनिया</ref>
=== नाम ===
चौदह मनुओं के नाम इस प्रकार से हैं:
बेनामी उपयोगकर्ता