"गंजापन" के अवतरणों में अंतर

4,005 बैट्स् जोड़े गए ,  4 माह पहले
छो (2402:8100:2348:75D9:7D5D:1836:2D15:9938 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन प्रत्यापन्न उन्नत मोबाइल सम्पादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit Reverted
 
लिंक पर जा कर आप अधिक जानकारी ले सकते हैं।ह
 
मिल गया गंजों की खोपड़ी पर नए बाल उगाने का फार्मूला...
अमृतम पत्रिका, ग्वालियर मप्र से साभार...
जाने- गंजों के बाल उगाने का 5000 साल पुराना उपाय....
गंजापन आने के मुख्य कारण...
◆ गीले बालों में तेल लगाने से बालों में रूसी होने लगती है।
 
◆ रूसी यानी डेंड्रफ का एक कारण पित्त की वृद्धि भी है।
 
◆ अगर बहुत दिनों तक कब्ज की शिकायत रहे, तो भी रूसी हो सकती है।
 
◆ लिवर के क्रियाशील न होने से बालों की बीमारियों का भय बना रहता है।
यह सब गंजे होने का श्रीगणेश अथवा कारण है।
 
आयुर्वेद के प्राचीन ग्रन्थ जैसे-आयुर्वेद सहिंता,
 
धन्वंतरि चिकित्सा, अगस्त्य आयुर्वेद (तमिल आदि में गंजों के सिर पर बाल उगने के अनेकों अद्भुत उपचारों का वर्णन है। इसमें परिश्रम जरूर है लेकिन परिणाम की 100 फीसदी गारंटी भी है।
 
यह सब घरेलू इलाज वर्तमान समय की आपाधापी में कहीं लुप्त होते जा रहे हैं। आज के दौर में हर आदमी आधुनिकता और दिखावट के कारण बर्बादी की कगार पर है।
 
बीते काल में हर जवान व्यक्ति या महिलाएं बालों को घना बनाने के लिए हर महीने उपयोग करती थी।
क्या करें घरेलू इलाज....आपको एक नींबू और एक तांबे का सिक्का लेना है।
 
तांबे के सिक्के को खुरदरी सतह पर नींबू का रस डाल कर चन्दन घिसने वाले पत्थर पर घिसना है और उससे बनने वाले लेप को अपने गंजेपन वाली जगह पर लगाएं। एक से दो महीने के प्रयास व प्रयोग से निश्चित ही नवीन केश आने लगते हैं।
 
बाल झड़े-टूटे नहीं... इसलिए पहले से ही सतर्कता बरतें....ये आयुर्वेदिक उपचार अपनाएं…
 
◆ कुन्तल केयर हर्बल हेयर spa हेम्पयुक्त
सुबह की धूप में बैठकर बालों में लगायें। एक घण्टे सूखने देंवें।
 
◆ अमृतम भृङ्गराज थेरेपी शेम्पो से बाल धोएं।
 
◆ पित्तदोष और लिवर की खराबी से मुक्ति हेतु
कीलिव माल्ट लेवें।
 
◆ कब्ज मिटाने के लिए रात को 1 से 2 गोली सादे जल से सोते समय लेवें।
 
 
== गंजेपन के प्रकार ==
बेनामी उपयोगकर्ता