"शंकर कुमार सान्याल" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
| image_size =
| caption = शंकर कुमार सान्याल
| birth_name = विश्वनाथशंकर पाटेकरकुमार सान्याल
| birth_date = {{Birth date and age|df=yes|1948|07|30}}
| birth_place = [[मुरुद जंजीरा किला|मुरुड जंजीरा]], [[पश्चिम बंगाल]], [[भारत]]
*गांधी आश्रम, दिल्ली में अखिल भारतीय गांधीवादी रचनात्मक कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन 25 और 26 नवंबर 2018 को किया गया जो 2019 में महात्मा गांधी और कस्तूरबा की 150 वीं जयंती की तैयारी के एक भाग के रूप में 12 साल के लंबे अंतराल के बाद अपनी तरह का पहला सम्मेलनथा. इसका उद्घाटन भारत के माननीय उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने किया इस सम्मेलन में देश और विदेश के विभिन्न दूरस्थ क्षेत्रों से 5000 गांधीवादी रचनात्मक कार्यकर्ताओं, युवाओं और विभिन्न क्षेत्रों के अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया।इसके समापन सत्र को भारत के माननीय राष्ट्रपति, रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में संबोधित किया जिसमे पूरे देश के प्रमुख गांधीयन कार्यकर्त्ता ,नेतृत्व कर्ता उपस्थित रहे.
* दिल्ली में माता कस्तूरबा पर संग्रहालय (बा के जीवन और गतिविधियों पर एक संग्रहालय), "कस्तूरबा कुटीर" को महात्मा गांधी द्वारा उद्योगशाला में परिवर्तित कर दिया गया था और योग केंद्र भी जो कालांतर में बहुत समय पहले निष्क्रिय हो चुका था। पुनर्निर्मित कस्तूरबा कुटीर का उद्घाटन 7 जुलाई 2017 को भारत के तत्कालीन माननीय उपराष्ट्रपति श्री हामिद अंसारी ने महात्मा गांधी जी की प्रपौत्री सुश्री तारा गांधी भट्टाचार्य और अन्य की भव्य उपस्थिति में किया। पुनर्निर्मित उद्योगशाला को संघ के सहयोग से टेक महिंद्रा स्मार्ट एकेडमी फॉर हेल्थकेयर द्वारा एक कौशल विकास प्रशिक्षण संस्थान के रूप में पुनर्जीवित किया गया. यहाँ युवाओं से न्यूनतम शुल्क लेकर उनका कौशल प्रशिक्षण निरंतर संचालित है जो युवाओं को विभिन्न प्रतिष्ठित स्वास्थ्य देखभाल संस्थानों में रोजगार दिलाने(प्लेसमेंट ) का कार्य भी कुशलता से करता है.गांधी आश्रम, किंग्सवे कैंप में महात्मा गांधी योग केंद्र के नवीनीकरण की भी पहल की गयी । इस योग केंद्र की स्थापना युवाओं को योग प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए की गई जिसका उद्घाटन 25 नवंबर 2018 को भारत के माननीय उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने किया ।
*अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित व प्रशंसित कथाकार, पूज्य [[मोरारी बापू]] द्वारा 9-दिवसीय 'मानस-हरिजन' गांधी कथा का आयोजन 24 सितंबर - '[[सद्भावना दिवस]]' (ऐतिहासिक [[पूना पैक्ट]] दिवस) से 2 अक्टूबर 2019 तक - गांधीजी की 150 वीं जयंती पर आयोजित किया गया । गांधी आश्रम का पवित्र स्थान,पर आयोजित कथा में लगभग 8,000 लोग शामिल हुए. इसका उद्घाटन भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने किया। कथा में परम पावन [[दलाई लामाजीलामा]]जी, पूज्य योग ऋषि स्वामी रामदेवजी, पूज्य स्वामी चिदानंद सरस्वतीजी, अध्यक्ष, [[परमार्थ निकेतन]], संस्थापक / अध्यक्ष, ग्लोबल इंटरफेथ वाश एलायंस और अन्य देश विदेश के अंतर-धार्मिक नेताओं, विद्वानों, बुद्धिजीवियों, शिक्षाविदों आदि ने भाग लिया। इसका समापन सत्र भारत के पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न, प्रणब मुखर्जी जी द्वारा कस्तूरबा कुटीर में संबोधित हुआ ।
==साहित्यिक गतिविधियाँ==
*संपादक, जातीय समचिंतन -1986 से कला, संस्कृति और साहित्य पर अग्रणी साहित्यिक बंगाली पत्रिका. इसके अतिरिक्त प्रमुख अन्य पत्र, पत्रिकाओं, जर्नल्स में विकास और राष्ट्रीय समस्याओं सहित विभिन्न मुद्दों पर लेखन।
[[चित्र:Shankar_sanyal_with_president_of_india.jpg|अंगूठाकार|महामहिम [[राष्ट्रपति]] [[रामनाथ कोविन्द]] जी को अंगवस्त्र भेंट करते [[शंकर कुमार सान्याल]] [[अध्यक्ष]] [[हरिजन सेवक संघ]]।]]
 
*'[[राष्ट्रीय एकता पुरस्कार]]' 1990 में सामाजिक कार्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं, उपलब्धियों और योगदान के लिए भारत के पूर्व [[राष्ट्रपति]] [[ज्ञानी जैल सिंह]] से ये पुरस्कार प्राप्त किया ।
 
*'[[गैर-पारंपरिक ऊर्जा पुरस्कार]]' श्री सुरेंद्र मोहन, अध्यक्ष, केवीआईसी गैर-पारंपरिक ऊर्जा स्रोत मंत्रालय से गैर-पारंपरिक ऊर्जा के क्षेत्र में अतुलनीय उपलब्धि के लिए जो विशेष रूप से बेहतर चूल्हा कार्यक्रम लिए था, प्राप्त किया. ये प्राप्ति 5 जुलाई 1997 को एनसीई कार्यक्रम (एमएनईएस) अंतर्गत केवीआईसी और आरईआरडीए-भारत, के 35 वर्ष पूरे होने के अवसर पर हुई ।
*'[[मूनिस रजा मेमोरियल अवार्ड]]' पुरस्कार एनआरआई (अनिवासी भारतीयों) के ग्लोबल एसोसिएशन द्वारा राष्ट्रीय विकास, अंतर्राष्ट्रीय समझ, शांति, जीवन के संवर्धन में अनुकरणीय योगदान और इंजीनियरों की संस्था में विशेषज्ञता के क्षेत्र में उत्कृष्ट उपलब्धियों के लिए 3 अप्रैल 1998 को नई दिल्ली भारत में दिया गया
*'[[इंटरनेशनल मैन ऑफ द ईयर]] - IBC एक गैर-राजनीतिक, धर्म निरपेक्ष संगठन है, जो कई अन्य कार्यों के साथ कई अत्यधिक सम्मानित अंतर्राष्ट्रीय ’ हूज़ हू ’ शीर्षक जीवनियाँ प्रकाशित करता है ।इस इंटरनेशनल बायोग्राफिकल सेंटर (IBC), कैम्ब्रिज, इंग्लैंड के संपादकीय बोर्ड द्वारा 28 अप्रैल 1998 को वर्ष 1997-98' के प्राप्तकर्ता के रूप में सम्मानित किया गया
*"[[एमएसपीआई उत्कृष्ट व्यक्तित्व]] - 1998" प्रबंधन अध्ययन संवर्धन संस्थान, नई दिल्ली को,, उनके जीवनी प्रकाशन में योगदान के लिए 30 अक्टूबर 1998 को ‘ सर्टिफिकेट आफ मेरिट ‘ सम्मान प्राप्तकर्ता.
*' [[राष्ट्रीय एकता और सामाजिक कार्य के लिए पुरस्कार]] ' प्रो. आशीष बंदोपाध्याय, कुलपति, कलकत्ता विश्वविद्यालय द्वारा ’ कलकत्ता विश्वविद्यालय राष्ट्रीय एकता परिषद ‘ के अंतर्गत, सामाजिक कार्य और राष्ट्रीय एकता के क्षेत्र में योगदान के लिए , 26 जनवरी 2005 को दिया गया।
*"[[बंगबंधु मुजीबर रहमान अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार]]" जनाब रेज़ौल करीम हीरा, माननीय भूमि और भूमि सुधार मंत्री,बांग्लादेश सरकार ने बनबबंधु जातीय स्वाधीनता परिषद द्वारा, बांग्लादेश नेशनल प्रेस क्लब, ढाका, में 7 अगस्त 2010 को प्रदान किया
*"[[कॉर्पोरेट एनर्जी मैनेजमेंट अवार्ड]] " इन्डियन इन्स्टीटयूटआफ सोशल वेल्फेयर एंड बिजनेस मैनेजमेंट कलकत्ता जो पहला बी स्कूल है ने, ऊर्जा संरक्षण दिवस 14 दिसंबर 2010 को ऊर्जा प्रबंधन के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रदान किया
*"[[गंगा पुरस्कार]]" [[उत्तराखंड]] के [[राज्यपाल]], महामहिम डॉ कृष्ण कांता पॉल द्वारा ग्लोबल इंटर फेथ वाश एलायंस (जीआईडब्ल्यूए) और यूनिसेफ की ओर से [[ऋषिकेश]] में 3 और 4 मई, 2017 को आयोजित एक अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी "यू आर द सॉल्यूशन: समिट ऑफ लीडर्स" में प्रदान किया गया. ये पुरस्कार महात्मा गांधी द्वारा परिकल्पित स्वच्छ भारत और अन्य रचनात्मक कार्यों की दिशा में गांधीवादी कार्यकर्ताओं का नेतृत्व करने के लिए प्रदान किया गया
* “रणबीर“[[रणबीर सिंह राष्ट्रीय शांति और सद्भाव पुरस्कार]] “राष्ट्रीय स्तर पर शांति, एकता और सद्भाव विकास के उत्कृष्ट स्वैच्छिक कार्य के सम्मान के लिए 25 नवंबर 2018 को श्री [[दीपेंद्र सिंह हुड्डा]], सांसद और स्वामी चिदानंद सरस्वती महाराज, अध्यक्ष, [[परमार्थ निकेतन]], [[ऋषिकेश]] और संस्थापक अध्यक्ष ग्लोबल इंटरफेथ वॉश एलायंस (जीआईडब्ल्यूए) द्वारा प्रदान किया गया
*[[प्रफुल्ल चंद्र सेन मेमोरियल अवार्ड]] 2018 के प्राप्तकर्ता, स्वर्गीय [[प्रफुल्ल चंद्र सेन]] , देश के प्रसिद्ध गांधीवादी और पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री की स्मृति में, उनके छात्र दिनों के दौरान और वर्तमान में श्री सेन के साथ उनके घनिष्ठ संबंध की मान्यता स्वरूप ,राज्य और देश के गांधीवादी सोच के अग्रणी नायक के रूप में 10 अप्रैल 2018 को प्रदान किया गया
==विदेशी प्रतिनिधिमंडल==
* "कानूनी सहायता पर दक्षिण एशियाई संगोष्ठी" जो काठमांडू, नेपाल में मार्च 1986 में आयोजित हुई, में प्रतिनिधि के तौर पर भारत का प्रतिनिधित्व किया।
* टोरंटो, कनाडा में आयोजित विश्व धर्म संसद में 1 से 7 नवंबर 2018 तक गांधीवादी बिरादरी का प्रतिनिधित्व किया, जिसमें 80 देशों के 10,000 से अधिक प्रतिनिधियों और विभिन्न धर्मों के 50 प्रमुखों ने भाग लिया। धर्मों और आध्यात्मिक समुदायों के बीच सद्भाव पैदा करने और एक न्यायपूर्ण, शांतिपूर्ण और टिकाऊ दुनिया के प्रति जुड़ाव को बढ़ावा देने के लिए गांधीवादी सिद्धांतों, विचारों और आदर्शों पर प्रकाश डाला।
==विदेश यात्रायें==
[[इटली]], [[फ्रांस]], [[स्विट्जरलैंड]], [[यूनाइटेड किंगडम]], [[नीदरलैंड]], [[बेल्जियम]], [[लक्जमबर्ग]], [[संयुक्त राज्य अमेरिका]], [[कनाडा]], [[चीन]], [[दक्षिण अफ्रीका]], [[थाईलैंड]], [[पाकिस्तान]], [[श्रीलंका]], [[नेपाल]], [[बांग्लादेश]], भूटान।[[भूटान]]
==सन्दर्भ==
97/3, नस्कर पारा रोड, घुसुरी, हावड़ा - 711 107, पश्चिम बंगाल फोन: 91-33-2655-6161 / 2655-6621, मोबाइल: 098312 24445 ई-मेल: वेबसाइट: www.sankarsanyal.com फेसबुक: शंकर कुमार सान्याल Instagram: sankarsanyalofficial You Tube: शंकर कुमार सान्याल Twitter: शंकर कुमार सान्याल
760

सम्पादन