"हरिजन सेवक संघ" के अवतरणों में अंतर

9 बैट्स् नीकाले गए ,  3 माह पहले
# - साथ ही उपरोक्त दोनों कार्यों के लिए जोर.जबरदस्ती का प्रयोग न किया जाय बल्कि केवल शान्तिपूर्वक समझाते. बुझाते हुए यह प्रयास किया जाय।
इन्ही विनिश्चयन के अनुसार अश्पृश्यता विरोधी मंडल नाम की अखिल भारतीय संस्था बनाई गयी जिसका मूल संविधान महात्मा गांधी ने अपनी हस्तलिपि में तैयार किया।
यही संस्था आगे चलकर ष्हरिजन[[हरिजन सेवक संघष्संघ]] कहलाई जिसका मुख्यालय किंग्सवे कैम्प दिल्ली में स्थापित है।
इस संघ का प्रथम प्रमुख [[श्री घनश्यामदास जी बिरलाबिड़ला]] को नियुक्त किया गया तथा इसके पहले मंत्री बने श्री अमृतलाल बिट्टालदास ठक्कर जी ठक्कर बाबा के नाम से जाने जाते हैं।
<ref>{{Cite web |url=https://www.gandhiheritageportal.org/hi/ghp_booksection_detail/LTUyMS0z#page/256/mode/2up |title=संग्रहीत प्रति |access-date=8 अप्रैल 2017 |archive-url=https://web.archive.org/web/20170408082418/https://www.gandhiheritageportal.org/hi/ghp_booksection_detail/LTUyMS0z#page/256/mode/2up |archive-date=8 अप्रैल 2017 |url-status=live }}</ref>
 
== हरिजन शब्द ==
760

सम्पादन