"सीरियाई गृहयुद्ध": अवतरणों में अंतर

लेख को बदला
छो (टैग {{में विलय}} लेख में जोड़ा जा रहा (ट्विंकल))
(लेख को बदला)
टैग: 2017 स्रोत संपादन
{{स्रोतहीन|date=अगस्त 2013}}
 
'''सीरियाई गृहयुद्ध''' ({{lang-ar|الْحَرْبُ الْأَهْلِيَّةُ السُّورِيَّةُ|al-ḥarb al-ʾahlīyah as-sūrīyah}}) [[सीरिया]] में विभिन्न समूहों में चल रहे वर्तमान [[गृहयुद्ध|संकट]] को कहा जाता है। यह विरोध सीरिया के राष्ट्रपति [[बशर अल-असद]] के नेतृत्व वाले [[सीरिया|सीरियाई अरब गणतंत्र]] (कुछ देशी और विदेशीय सहयोगियों के साथ) एवं विभिन्न स्थानीय एवं विदेशी ताकतों का है जो सीरियाई सरकार और आपस में (विभिन्न क्रमचयों के साथ) है।<ref>{{cite news |url=http://www.aljazeera.com/news/2016/05/syria-civil-war-explained-160505084119966.html |title=Syria's civil war explained from the beginning |trans-title=सीरिया के गृहयुद्ध का शुरूआत से विश्लेषण |publisher=अल जज़ीरा |access-date=29 अगस्त 2021 |language=en |archive-url=https://web.archive.org/web/20170430014912/http://www.aljazeera.com/news/2016/05/syria-civil-war-explained-160505084119966.html |archive-date=30 अप्रैल 2017 |url-status=live}}</ref>
[[सीरिया|सीरियाई]] गृहयुद्ध जो कि सीरियाई विद्रोह या सीरियाई संकट के नाम से भी जाना जाता है, सीरिया में सत्तारूढ़ 'बाथ सरकार' के समर्थकों एवं विपक्षियो के बीच चल रहा सशस्त्र संघर्ष है। यह संघर्ष १५ मार्च,२०११ को लोक-सम्मत प्रदर्शनों के साथ शुरू हुआ एवं अप्रैल, २०११ तक पूरे देश में फैल गया। यह प्रदर्शन समस्त उत्तर-पूर्व में चल रही 'अरब क्रांति' का हिस्सा थे। विरोधकर्ताओं की मांगें थी की राष्ट्रपति [[बशर अल-असद|बशर अल - असद]], जो कि १९७१ से सीरिया में सत्तारूढ़ थे, पदत्याग करें एवं 'बाथ पार्टी' का शासन, जो कि १९६३ से आ रहा है, का अंत हो।
 
सीरिया में आशान्ति का दौर (वर्ष 2011 के [[२०१० से प्रारंभ होने वाली अरब जगत की क्रांतिकारी लहर|अरब जगत के विस्तृत विद्रोह]] का एक भाग जो 15 मार्च 2011 को आरम्भ हुआ) सिरियाई सरकार और सशस्त्र बलों में विद्रोह से आरम्भ हुआ जिसमें असद को हटाने के लिए हिंसक विद्रोह बड़े स्तर पर फैल गया।<ref>{{cite news |url=https://www.bbc.com/news/world-middle-east-26116868 |title=Syria: The story of the conflict |trans-title=सीरिया: विद्रोह की कहानी|date=11 मार्च 2016 |work=बीबीसी न्यूज़ |access-date=29 अगस्त 2021 |language=en |archive-url=https://web.archive.org/web/20180622052951/https://www.bbc.com/news/world-middle-east-26116868 |archive-date=22 जून 2018 |url-status=live}}</ref><ref>{{cite news|url=https://www.nytimes.com/2011/03/26/world/middleeast/26syria.html|title=Syrian Troops Open Fire on Protestors in Several Cities|trans-title=सीरिया की सेना ने विभिन्न नगरों में विद्रोहियों पर गोली चलाई |date=25 मार्च 2011|work=द न्यूयॉर्क टाइम्स |access-date=29 अगस्त 2021 |language=en |archive-url=https://web.archive.org/web/20180621011638/https://www.nytimes.com/2011/03/26/world/middleeast/26syria.html |archive-date=21 जून 2018|url-status=live}}</ref><ref>{{Cite news|url=https://www.bbc.com/news/world-middle-east-12749674|title=Mid-East unrest: Syrian protests in Damascus and Aleppo|trans-title= मध्य-पूर्व की अशान्ति: दमिश्क और अलेप्पो में सीरिया का विरोध प्रदर्शन|date=2011-03-15|newspaper=बीबीसी हिन्दी |access-date=29 अगस्त 2021 |language=en|language=en-GB|archive-url=https://web.archive.org/web/20180721134738/https://www.bbc.com/news/world-middle-east-12749674|archive-date=21 जुलाई 2018|url-status=live}}</ref>
अप्रैल, २०११ में सीरियाई सेना को क्रांति के निर्देश मिले, तथा सैनिकों ने पूरे देश में प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं। महीनों की सैन्य घेराबंदी के बाद यह विरोध सशस्त्र विद्रोह में बदल गया। आज विपक्षी ताकतें, जो कि मुख्यतः विरोधी सैनिकों एवं नागरिकों से बनीं हैं एक केन्द्रीय नेतृत्व के बिना हैं। पूरे देश के कई छोटे-बड़े नगरों में चल रहा यह विद्रोह असममात्रिक है। २०११ के अन्त में विपक्षी ताकतों में इस्लामी संगठन 'जबात-उल-नसरा' का बढ़ता प्रभाव देखा गया। सन २०१३ में हिजबुल्ला ने सीरियाई सेना की ओर से जंग में प्रवेश किया। सीरियाई सरकार को रूस एवं ईरान से सैनिक सहायता प्राप्त है, जबकि विद्रोहियों को क़तर एवं [[सउदी अरब]] से हथियारों की पूर्ती हो रही है। जुलाई २०१३ तक सीरियाई सरकार देश की ३०-४० प्रतिशत भूमि व ६० प्रतिशत जनता पर शासन कर रही है, जबकि विप्लवियों के नियंत्रण में देश के उत्तर एवं पूर्व में भूमि है।
 
वर्तमान में विभिन्न गुटों के मध्य युद्ध चल रहा है जिसमें सीरिया की सशस्त्र सेना तथा इसके स्थानीय एवं विदेशी सहयोगी, बाग़ी [[सुन्नी इस्लाम|सुन्नी]] विपक्ष (जैसा मुक्त सीरियाई सेना) के कुछ हल्के गटबंधन, [[सलाफ़ी जिहादी]] समूह (अल-नुसरा फ्रॅण्ट और तहरीर अल-शाम सहित), मिश्रित कुर्दिश-अरब सीरियाई गणतांत्रिक बल (एसडीएफ़) और [[आईएसआईएस|इस्लामिक स्टेट ऑफ़ इराक़ लेवेंट]] (आईएसआईएल) शामिल हैं।
 
[[अरब लीग]], [[संयुक्त राज्य अमेरिका]], [[यूरोप|यूरोपीय संघ]], एवं अन्य देशों ने प्रदर्शनकारियों पर हिंसा के प्रयोग कि निंदा की। अरब संघ ने इस संकट पर राज्य की प्रतिक्रिया के कारण सीरिया को संघ से निकाल दिया, एवं उसकी जगह सीरियाई राष्ट्रीय गठबंधन, सीरिया के राजनीतिक विपक्षी समूहों के एक गठबंधन, को ६ मार्च २०१३ को संघ में जगह दी।
 
==सन्दर्भ==
{{reflist}}
 
[[श्रेणी:सीरियाई गृहयुद्ध]]
[[श्रेणी:सीरिया]]